वाह ई ओ साहब ! उधारी की मंगवाई मोबाइल ट्वायलेट भी वापस भेज दी स्वच्छ भारत मिशन की तो न उड़ाओ खिल्ली

क़ुतुब अंसारी / अशोक सोनी
जरवल ( बहराइच ) सरकारी आंकड़ों को ही माने तो नगर पंचायत जरवल मे 954 परिवारों के यहाँ शौचालय नही थे ये रिपोर्ट खुद यहाँ के निकाय प्रशासन की सर्वे रिपोर्ट बता रही है ये उनका मिशन टारगेट मे भी था।कस्बे के 13 वो वार्ड मे कस्बे के लोगो ने शौचालय बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन भी किया जिसमें निकाय प्रशासन ने लोगो को पहली व दूसरी क़िस्त का पैसा भी  खाते मे भेज दिया ये बात भी निकाय प्रशासन स्वीकार कर रहा है।लेकिन यहाँ की जमीनी हकीकत पर ध्यान दिया जाए तो हकीकत बिल्कुल भिन्न सी है सूत्रों की माने तो यहाँ पर लोग अभी भी खुले मे शौच को जाते है तकरीबन पाँच सौ परिवारों के यहाँ अभी भी शौचालय नही है जिन्हे शौच के लिए खुले मैदान मे जाना पड़ रहा है जो लोगो की मजबूरी भी है।लेकिन यहाँ पर अधिशाषी अधिकारी संतोष कुमार चौधरी ने कस्बे के तैरहो वार्डो को ओ डी एफ दिखा कर शासन व प्रशासन को भी भ्रमित कर दिया।
इस सिलसिले मे दिनांक 24 व 25 सितम्बर को शौचालय निर्माण की जमीनी हकीकत को देखने के लिए Q C I की ओर से साहिल शेख नाम का एक कर्मचारी जरवल पहुँचा तो यहाँ उन्हे विचित्र नजारा देखने को मिला लोग खुले मे तो शौच करते दिखाई ही दिए जो यहाँ पर जाँच की पूर्व संध्या पर मोबाइल ट्वायलेट उन्हे दिखाए वो नगर पालिका परिषद बहराइच का था उसे पुतवा कर जरवल नगर पंचायत लिखा दिया यही नही लोगो के निजी शौचालय पर भी सार्वजनिक शौचालय लिखवाने से यहाँ का निकाय बाज नही आया जिससे नाराज जाँच टीम मात्र वैराकाजी कटरा प्रथम,कटरा दृतिय के सरकारी विद्यालय आदि को देख चले गए पूछने पर बताया कि यहाँ की स्थित बड़ी ही खराब है। क्या जाँच करु वैसे हमे जैसा ऑनलाइन जाँच की जो जिम्मेदारी मिली थी रिपोर्ट भारत सरकार को भेज दी है।
सभासदो ने शासन को लिखा पत्र बोले जरूरत पड़ी तो स्थिफ़ा भी दे दूंगा!
जरवल।शासन व प्रशासन को भ्रमित करने वाली सूचना की भनक पाकर राज्य मिशन निदेशालय व अपर जिला अधिकारी/प्रभारी अधिकारी स्थानीय निकाय के अलावा प्रधान मंत्री व मुख्य मन्त्री के साथ कमिश्नर को एक शिकायती पत्र भेजा है जिसमे दर्शाया गया है कि कस्बे मे लोग खुले मे शौच के लिए जाते है पुराने शौचालय को नया दर्शाया गया है कि बात भी शिकायती पत्र मे लिखा है शिकायत कर्ता सभासदो मे अफजाल अहमद,शारिब,कोमललता गुप्ता,शकील अहमद,चंदा बानो,जलील अहमद व नादरा ने शिकायती पत्र मे लिखा है कि ई ओ ने कस्बे मे जो ओ डी एफ दिखाया है सरकार को भ्रमित करने वाली है सही जाच न हुई तो जल्द ही धरना प्रदर्शन कर वे लोग  जनहित मे सामूहिक स्तीफा भी दे देंगे।
जरवल।इस सम्बंध मे ई ओ संतोष कुमार चौधरी कहते है कि जिन लोगो ने पैसा पाकर शौचालय नही बनवाया है नोटिस भेजी जावेगी।वैसे बड़े बड़े लोग सरकारी पैसा लेकर विदेश भाग जाते है कही कुछ होता है।
Back to top button
E-Paper