हनीट्रैप: पहले फ़ोन पर करती थी प्यार भरी बाते, फिर रेप में फंसाने के नाम पर वसूलती थी लाखों

जी हाँ जमाना इतना बदल गया है कि लोग पैसा कमाने के लिए ऐसी-ऐसी योजना बनाते हैं कि आप सोच भी नही सकते हैं. महिलाओं की इन शातिर सोच को जानकर आप भी हैरान रह जायेंगे. गाजियाबाद के इंदिरापुरम से एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है, जोकि महिलाओं से गंदी-गंदी बातें फोन पर करवाकर लोगों को फंसाया करते थे.

क्या है मामला..?

दिल्ली से सटे गाजियाबाद के इंदिरापुरम में पुलिस ने ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जोकि अमीर-अमीर लोगों को फोन पर गंदी-गंदी बातें करके पहले तो बुलाते थे फिर बाद में कुछ ऐसा करते कि जानकर आप भी दंग रह जाओगे. जी हाँ ये लोग अब तक कई बड़े-बड़े अमीर लोगों से अब तक 40 लाख से ज्यादा की ठगी कर चुके थे. इस गिरोह में दो युवक और दो युवतियां शामिल हैं. जिनमें एक आरोपी हरियाणा का है और दूसरा बुलंदशहर का. वहीँ साथ में पकड़ी गयी लड़कियों में एक दिल्ली की निवासी है और दूसरी यूपी के बदायूं की है.

नोट-तस्वीर काल्पनिक हैगंदी गंदी बात करके लोगों को फंसाती थी महिलाएं

दरअसल ये लड़कियां दिल्ली के आस-पास रहने वाले अमीर लोगों से पहले तो फोन पर बात किया करती थी. लोगों को फंसाने के बाद युवतियां गंदी गंदी फोन पर बात करके उन्हें अपने पास बुलाने को मजबूर कर दिया करती थी. बताया जा रहा है कि ये युवतियां लोगों को शारीरिक संबंध बनाने के लोभ देकर अमीर-अमीर लोगों को अपने यहां बुलाती थी और उनके साथ आपत्तिजनक हालत में लेटकर वीडियो शूट कर लिया करती थी. फिर उसके बाद होती इनके गेम की शुरुआत.

अमीर-अमीर लोगों के साथ आपत्तिजनक हालत में वीडियो बनाने के बाद..

बता दें गैंग में शामिल युवक इन युवतियों के साथ का आपत्तिजनक हालत का वीडियो बनाकर उन लोगों को भेजकर ब्लैकमेल किया करते थे, जो इन लोगों के पास आया करते थे. पुलिस ने बताया कि गैंग में शामिल युवक बाजार में घूमा करते थे और बड़ी-बड़ी दुकान के बाहर लिखे नम्बरों को नोट करके महिलाओं को दे दिया करते थे. जिसके बाद महिलाएं उन नम्बरों पर फोन करके उन लोगों को अपनी बातों में फंसा लिया करती थी. इतना ही नहीं लोगों को भरोसा दिलाने के लिए यह वीडियो कॉल तक किया करती थी. फिर उसके बाद ये महिलाएं लोगों को सेक्स करने का भरोसा देकर उन्हें अपने पते पर बुला लिया करती थी. अपने पते पर बुलाने के बाद ये महिलाएं उन लोगों का आपत्तिजनक हालत का वीडियो बनाकर उन लोगों को ब्लैकमेलिंग का खेल-खेलते थे.

गौरतलब है कि ये गैंग उन लोगों के साथ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराने और वीडियो को लीक करने की धमकी दिया करते थे. जिसके डर से लोग इन्हें पैसे दे दिया करते थे. इसी तरह इन्होने 40 लाख रूपये से ज्यादा की ठगी करके कई अमीर लोगों को अपना निशाना बनाया करते थे. फिर इन्होने एक ग्रेटर नॉएडा के कारोबारी को भी इसी तरह फंसाया था और उससे 5 लाख रूपये की मांग करने लगे. कारोबारी ने परेशान होकर इंदिरापुरम थाने में जाकर अपनी बात बताते हुए शिकायत दर्ज करा दी. जिसके बाद गुरूवार रात को पुलिस ने उस कारोबारी से पैसे लेने के बहाने अभयखंड बुलाया, जहाँ चारों आरोपी I-10 कार में आये तो वहां उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. जिसके बाद उनसे पूछताछ में सभी खुलासे हुए. पुलिस ने सभी आरोपियों को जेल भेज दिया है.

Back to top button
E-Paper