ऑटो-रिक्शा ड्राइवर की युवती के साथ हैवानियत, फिर कर डाला ये कांड

मुंबई: ठाणे जिले के उल्हासनगर कस्बे के वन क्षेत्र में एक ऑटो-रिक्शा चालक ने 25 वर्षीय एक महिला को कथित तौर पर अगवा कर उससे बलात्कार किया। यह घटना 31 जुलाई तड़के को घटी। पुलिस के मुताबिक, ठाणे जिले के कल्याण के निकट रायते गांव की रहने वाली महिला और कल्याण के निकट नेवली के रहने वाले 30 वर्षीय आरोपी मुकेश एक-दूसरे को जानते थे। उन्होंने बताया कि सोमवार की रात महिला उल्हासनगर के एक आभूषण की दुकान की ओर जा रही थी।

इसी दौरान आरोपी अपने ऑटो से वहां आया और उसने महिला को पार्टी देने की पेशकश करते हुए उसे एक होटल में ले गया। उल्हासनगर थाने के एक अधिकारी ने बताया, ‘होटल पहुंचने के बाद पीड़िता ने कुछ भी खाने-पीने से इनकार कर दिया और उसने कहा कि वह परेशान नहीं करे।’

अधिकारी ने बताया, ‘इस पर व्यक्ति ने पूछा कि क्या वह उसके साथ शिरडी चलेगी। महिला ने वहां जाने से इनकार कर दिया।’ इसके बाद आरोपी ने महिला से कहा कि वह उसे घर छोड़ देगा। लेकिन वह उसके घर ले जाने की बजाय उसे एक जंगली इलाके की तरफ ले गया और उस पर यौन हमला किया।

पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘अपराध को अंजाम देने के बाद मुकेश उसे जिले के सापेगांव ले गया और वहां उसे जबरन गाड़ी से उतार दिया। उसने पीड़िता को धमकी दी कि यदि उसने किसी से इस बारे में बताया तो गंभीर नतीजे भुगतने होंगे।’ महिला किसी तरह अपने घर पहुंची और फिर उसने पुलिस में शिकायत दर्ज करायी। पुलिस ने बताया आरोपी के खिलाफ आईपीसी की संबद्ध धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है लेकिन उसे अब तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है।

Back to top button
E-Paper