मुसलमानों ने पेश की सौहार्द की मिसाल, अमन शांति के साथ अदा हुई जुमे की नमाज

शहर में अलर्ट रहा प्रशासन, तैनात रही पुलिस
भास्कर समाचार सेवा

इटावा। कानपुर में हुई घटना के बाद फैली अफवाहों को दरकिनार करते हुए मुस्लिम समाज ने आज जुमे की नमाज अमन शांति के साथ अदा कर एक बार फिर आपसी सौहार्द और अमनचैन की मिसाल पेश की लेकिन मुसलमानों ने विरोध स्वरूप शांतिपूर्ण माहौल में अपनी दुकानों को बंद रखा। सुरक्षा की दृष्टि से शहर में पुलिस बल भी अलर्ट रहा।
नवागन्तक जिलाधिकारी अवनीश कुमार राय, एसएसपी जयप्रकाश सिंह सहित शहर के सम्भ्रांत लोगों ने कल पीस कमेटी की बैठक में शहर की जनता से अफवाहों से बचने, शहर में अमनचैन कायम रखने की जो अपील की थी आज जुमे के दिन उसका असर दिखाई दिया। हालांकि मुसलमानों ने कानपुर में हुई घटना के मद्देनजर विरोध स्वरूप शांतिपूर्ण माहौल में अपनी दुकानों को बंद रखा लेकिन शहर में किसी प्रकार का प्रदर्शन न होना इस बात का प्रमाण है कि इटावा की अमन पसन्द जनता आपसी सौहार्द, भाईचारा और अमनचैन की पक्षधर है। शहर की विभिन्न मस्जिदों के इमामों, बुद्धजीवी वर्ग द्वारा भी जुमे के दिन शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की गई थी यही वजह है कि आज शहर की मस्जिदों में जुमे की नमाज अमन शांति के साथ अदा हुई। मुस्लिम समाज ने जिला प्रशासन का पूरा सहयोग किया। शहर की विभिन्न मस्जिदों में मुल्क में आपसी सौहार्द की दुआ हुई। इसी क्रम में घटिया अज़मत अली स्थित मस्जिद पंजतनी में मौलाना अनवारुल हसन जैदी ने जुमे की नमाज के दौरान देश मे अमनचैन कायम रखने की अल्लाह से दुआ की। साबितगंज, रामगंज, पचराहा, नोरंगबाद सहित कई जगह मुस्लिम समाज ने अपनी दुकानों को बंद रखा। इन इलाकों में सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल तैनात रहा, सीओ सिटी अमित कुमार साबितगंज में मौजूद रहे।

Back to top button