अब इस देश में भी चीन का विरोध, संघर्ष में तीन चीनी नागरिकों सहित नौ घायल

ढाका। चीन की विस्तारवादी नीति का अब हर देश में विरोध होने लगा है। बांग्लादेश के पिरोजपुर जिले में स्थानीय लोगों ने एक चीनी कंपनी के निर्माण कार्य का विरोध किया। इस दौरान हुए संघर्ष में तीन चीनी नागरिकों समेत नौ लोग घायल हो गए।

पिरोजपुर जिले के मथबरिया क्षेत्र स्थित बदुरा गांव में चीनी कंपनी को तालाब सहित कुछ निर्माण कार्य का जिम्मा सौंपा जा रहा है। स्थानीय लोग चीनी कंपनी के इस निर्माण का विरोध कर रहे हैं। बुधवार को जब चीनी कंपनी के लोग निर्माण कार्य करने पहुंचे तो स्थानीय लोगों ने विरोध कर दिया। इस कारण संघर्ष शुरू हो गया। इसमें चीनी कंपनी के प्रबंधक 31 वर्षीय मजीमाओ, पर्यवेक्षक 28 वर्षीय चांग ड्यू और 38 वर्षीय लेई बो घायल हो गए। इनके अलावा स्थानीय नागरिक मुहम्मद जिल्लुर रहमान, मुहम्मद इलियास, निजाम सिकदर, माणिक, बहादुर उकिल और जकारिया खान भी जख्मी हुए हैं।

उपजिला स्वास्थ्य एवं परिवार नियोजन अधिकारी कमल हुसैन मुफ्ती ने बताया कि तीन चीनी नागरिकों और 6 स्थानीय लोगों का गंभीर हालत में भंडारिया अस्पताल में इलाज किया चल रहा है। दो चीनी नागरिकों के हाथ और पैर में और एक सिर में चोटें आईं है। पुलिस ने कहा कि तटबंध बनाने के लिए स्थानीय लोग मशीन से मिट्टी काटने गए थे। उस वक्त स्थानीय लोगों की चीनी कंपनी के मजदूरों से झड़प हो गई।

पिरोजपुर के एसपी मोहम्मद सैदूर रहमान ने बताया कि जमीन के मालिक व चीनी कंपनियों के बीच भूमि के स्वामित्व व तालाब खनन को लेकर गलतफहमी के कारण यह घटना हुई। इस मामले में कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

Back to top button