एक तरफ था माँ का शव, देखते ही देखते बेटे की भी हो गयी मौत…

बहराइच l गायों के झुंड से बाईक टकराई पीछे बैठी आंगनबाडी सहायिका की सिर मे चोट लगने से हुई मौत हो गई थी बेटी सदमा बर्दास्त न कर सकी ।
 रामगांव थाना अंतर्गत गंभीरवा बाज़ार निवासी एक महिला अपनी बीमार पुत्री की दवा लेने के लिए अपने रिश्तेदार के  साथ बाईक से गुरुवार देर शाम बहराइच जा रही थी तभी नेशनल हाईवे पर सोहरवा के निकट सामने से एक गायों का झुंड विचरण करता हुआ निकला एक गाय भागते हुए अचानक बाईक से टकरा गयी जिससे चालक व पीछे बैठी महिला दोनो गिर गये सिर फट जाने के चलते महिला की मौत हो गयी जब शव घर लाया गया तो बीमार पुत्री ने माँ को देखकर रोने लगी एक हिचकी आने के बाद उसकी भी माँ के मृत शरीर के बास उसकी मौत हो गयी ।
थाना क्षेत्र के गंभीरवा बाज़ार निवासी पुष्पा देवी पत्नी मंगल प्रसाद (35) जो अपने ही ग्राम पंचायत टेपरहा मे आंगनबाडी केंद्र पर तैनात कार्यकत्री फ़रीदा बानो की सहायिका के रूप मे निरंतर पिछले बारह वर्षो से कार्य कर रही थी इनके पति मुम्बई मे मजदूरी करने गये हुए है घर मे कोई ज़िम्मेदार न होने पर गुरुवार की देर शाम को पुष्पा देवी अपनी ग्यारह वर्षीय बीमार बच्ची की दवा लाने के लिए एक रिश्तेदार के साथ उसकी बाईक के पीछे बैठकर नानपारा – बहराइच राजमार्ग से होते हुए बहराइच जा रहे थे तभी रास्ते मे सोहरवा गांव के निकट अचानक बीच रास्ते से कुछ विपरीत दिशा मे गाय अचानक भागने लगी तभी एक गाय आकर बाईक से टकरा गयी और बाईक सवार गिर गये
जबकि बाईक चला रहे युवक को हल्की फुल्की चोटे आयी पर पीछे बैठी महिला का सिर फट गया था काफी खून बह चुका था कुछ देर मे परिजनों सहित काफी लोग मौके पर पहुंचे और जिला चिकित्सालय पहुंचते ही महिला ने दम तोड़ दिया जब शव को घर लाया गया तो बीमार बच्ची ने मृत माँ के शरीर को पकड़कर जगाने की कोशिश की शरीर मे कोई हरकत न होने पर अचानक किशोरी को हिचकी आयी और उसकी भी मौत हो गयी इस विदारक घटना से स्थानीय बाज़ार वासी काफी हतप्रभ है
आसपास के कई गांवो से देखने वालो का तांता मृतक के घर पर लगा हुआ है सूचना पाकर महिला का पति मुम्बई से चल चुका है बाकी मृतक की एक बेटी व एक बेटा का रो रो कर बुरा हाल है जो भी माँ बेटी का शव देखता है उसके आंखो से बरबस आंसू निकलने लगते है ।
Back to top button
E-Paper