हमारा लक्ष्य एक कॉस्ट इफेक्टिव हेल्थकेयर ईकोसिस्टम बनाना है : सिद्धार्थ सिंघल व सुधांशु सिंघल, को-फाउंडर्स, विबकेयर हेल्थकेयर

नई दिल्ली। स्वास्थ्य सेवा एवं फार्मास्युटिकल उद्योग के लगातार विकसित हो रहे परिदृश्य में, सिद्धार्थ सिंघल और सुधांशु सिंघल की उद्यमशील जोड़ी विजनरी पायनियर्स के रूप में उभरी है, जिसने टी्रमेंडस इनोवेशन और परिवर्तन की एक जबरदस्त लहर पैदा की है। विशिष्ट दृष्टिकोण और उत्कृष्टता के प्रति अटूट समर्पण से प्रेरित होकर, उन्होंने विबकेयर हेल्थकेयर प्राइवेट लिमिटेड का नेतृत्व किया है। दोनों उद्यमी बंधुओं ने दैनिक भास्कर से बातचीत में बताया कि हेल्थकेयर और फार्मासुटिकल कंपनी को एक अलग ऊंचाइयों पर कैसे ले कर जा रहे हैं।

2019 में कंपनी शुरू करने के बाद विबकेयर हेल्थकेयर की विकास यात्रा के बारे में उद्यमी बंधु सिद्धार्थ-सुधांशु ने कहा कि विबकेयर हेल्थकेयर एक छोटी दवा कंपनी से इनोवेशन एंड क्वालिटी के प्रतीक में बदल गई है। अथक अनुसंधान, डायवर्सिफिकेशन और ईको-फ्रेंडली प्रथाओं के माध्यम से, इसने जटिल इंडस्ट्री लैंडस्केप को पार किया, जीवन रक्षक दवाओं का उत्पादन किया और वैश्विक मान्यता अर्जित की। एम्प्लॉई डेवलपमेंट और नैतिक प्रथाओं पर एक मजबूत फोकस के साथ, फार्मास्युटिकल उद्योग में विबकेयर हेल्थकेयर का भविष्य असाधारण रूप से आशाजनक प्रतीत होता है।

आगे उन्होंने बताया कि पंचकूला में विबकेयर हेल्थकेयर के मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी की स्थापना वास्तव में एक प्रभावशाली मील का पत्थर है। इस संयंत्र ने उच्च गुणवत्ता वाले फार्मास्यूटिकल्स की लगातार डिलीवरी सुनिश्चित करते हुए हमारी विनिर्माण क्षमताओं को काफी बढ़ाया है। हमारी ग्रोथ में इसका योगदान अतुलनीय है, जो हमें अपनी उत्पाद श्रृंखला का विस्तार करने, अधिक बाजारों तक पहुंचने और एक इंडस्ट्री लीडर के रूप में अपनी स्थिति को और मजबूत करने में सक्षम बनाता है।

विबकेयर हेल्थकेयर की फार्मास्युटिकल उद्योग में उल्लेेखनीय सफलता का सूत्र समझाते हुए सिद्धार्थ ने बताया कि क्वालिटी स्टैंडर्ड्स के प्रति अटूट प्रतिबद्धता, कठोर गुणवत्ता नियंत्रण उपायों और अनुसंधान और विकास पर निरंतर फोकस की ठोस नींव पर टिकी हुई है। यही कारण है कि 600 से अधिक अप्रूवल्स के साथ, कंपनी ने नियामक उत्कृष्टता, विश्वास और मान्यता अर्जित करने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता साबित की है। लगातार बदलते फार्मास्युटिकल परिदृश्य में हमारी अनुकूलन क्षमता और चपलता हमें उद्योग में सबसे आगे रखती है।
आगे उन्होंने बताया कि कंपनी का मिशन अटूट गुणवत्ता, निरंतर नवाचार और नैतिक प्रथाओं के माध्यम से विश्व स्तर पर स्वास्थ्य सेवा में बदलाव लाना है। हम कड़े अनुपालन को अपनाते हैं, उद्योग के बदलावों को अपनाते हैं, स्थिरता को प्राथमिकता देते हैं और अपने कर्मचारियों का पोषण करते हैं। ये मूल्य फार्मास्युटिकल क्षेत्र में हमारी गतिशील यात्रा को आकार देते हैं, जिससे हम स्वास्थ्य सेवा इनोवेशन में एक अग्रणी शक्ति बन जाते हैं।

विबकेयर हेल्थकेयर की बेहतरीन प्रोडक्ट लाइन और मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी की विशिष्टता के बारे में सुधांशु सिंघल ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय गुणवत्ता मानकों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता प्रोडक्ट सेफ्टी और ग्लोबल एफिशिएंसी दोनों सुनिश्चित करती है। हमारे ईयू जीएमपी और पीआईसी/ एस ऑडिटेबल प्लांट, हमारे नियोजित डब्ल्यूएचओ जीएमपी सर्टिफिकेशन के साथ, हमारे द्वारा बनाए गए उच्च मानकों की गवाही देते हैं। व्यापक पेशकशों और अत्याधुनिक उत्पादन का यह अनूठा मिश्रण हमें उद्योग में एक विश्वसनीय और इनोवेटिव लीडर बनाता है। आगे उन्होंने कहा कि विबकेयर हेल्थकेयर सुव्यवस्थित उत्पादन, कॉस्ट-इफेक्टिव इनोवेशंस और स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप के माध्यम से एक्सेस एंड अफोर्डेबिलिटी हासिल करता है, जिससे गुणवत्ता या प्रभावशीलता से समझौता किए बिना वाइड ऑडियंस के लिए गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य उत्पाद उपलब्ध होते हैं।

स्वास्थ्य सेवा को विशेषधिकार से ज्यादा मौलिक अधिकार बताते हुए उद्यमी बंधुओं सिद्धांत-सुधांशु ने कहा कि हम उस भविष्य की कल्पना करते हैं जहां स्वास्थ्य सेवा एक विशेषाधिकार नहीं बल्कि एक मौलिक अधिकार हो। इसके लिए हमारी कोशिश है कि हम स्वास्थ्य सेवा को अधिक सुलभ और किफायती बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। हमारा लक्ष्य एक निर्बाध और कॉस्ट इफेक्टिव हेल्थकेयर ईकोसिस्टम बनाना है। मौजूदा वित्तीय वर्ष में कंपनी की बाजार स्थिति पर उन्होंने कहा कि विबकेयर हेल्थकेयर एक मजबूत बाजार स्थिति वाली एक अच्छी तरह से स्थापित फार्मास्युटिकल मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है। क्वालिटी, इनोवेशन, सस्टेनेबिलिटी और अनुपालन के प्रति हमारी प्रतिबद्धता ने उद्योग में ठोस वित्तीय प्रदर्शन और सकारात्मक प्रतिष्ठा में योगदान दिया है।

Back to top button