पीलीभीत : फर्जी सीबीआई अधिकारी लाखों रुपए लेकर फरार, आप भी रहें सावधान

भास्कर ब्यूरो

पूरनपुर-पीलीभीत। सीबीआई अधिकारी बनकर एक जालसाज व्यक्ति ने तलाकशुदा महिला से शादी कर ली और लाखों रुपए लेकर चपंत हो गया। जांच पड़ताल के बाद फर्जीबाड़े की जानकारी हुई तो महिला के होश उड़ गए। महिला की शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी करने वाले व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसकी खोजबीन शुरू कर दी है।

पूरनपुर के एक मोहल्ले की श्रुति सिंह ने शादी डॉट कॉम के माध्यम से विनय कुमार पुत्र सत्यनारायण निवासी बिंदु टोला जाफरा बाजार थाना तिवारीपुर जनपद गोरखपुर के साथ शादी की। शादी से पहले विनय कुमार ने खुद को सीबीआई अफसर बताया। महिला के संपर्क में आने के बाद उसने कोरोना में अपने माता पिता की मौत होने की भी जानकारी दी और फर्जी सीबीआई का पहचान पत्र दिखाकर विश्वास दिलाया कि वह अधिकारी है। 15 अप्रैल को मथुरा में श्रुति और विनय की शादी हुई। उसके बाद दोनों दिल्ली चले गए। विनय ने श्रुति की मां से नोएडा में प्लॉट दिलाने के नाम पर साढे़ आठ लाख रुपए लिए। श्रुति की बुआ नमिता से जमीन के नाम पर सात लाख, इसके अलावा जान पहचान के डॉक्टर घनश्याम से नौकरी के नाम पर नौ लाख हड़प लिए।

यही नहीं विनय कुमार ने कस्बे के ही हरी बाबू ज्वैलर्स से एक लाख के जेवरात भी उधार ले लिए। केस के सिलसिले में राजस्थान जाने की बात कहकर वह फरार हो गया और अभी तक वापस नहीं लौटा। विनय का नंबर स्विच ऑफ जा रहा है और वह महिला को लेने भी नहीं आया। पति के न आने पर श्रुति ने जांच पड़ताल की तो पता चला कि सीबीआई में विनय कुमार के नाम का कोई भी व्यक्ति अफसर नहीं है। उसने धोखाधड़ी और फर्जी पहचान पत्र लिखा कर श्रुति से शादी की। जानकारी लगते ही महिला और उसके परिजनों के होश उड़ गए। लाखों रुपए हड़पने के बाद से विनय कुमार फरार है। महिला ने मामले की शिकायत पूरनपुर कोतवाली पुलिस से की। पुलिस ने विनय कुमार पुत्र सत्यनारायण के खिलाफ केस दर्ज किया है।

Back to top button