प्रियंका का CM योगी को खत, यूपी के लिए ये सुझाव

नई दिल्ली । कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने लॉकडाउन के कारण मध्यम वर्ग, छोटे व्यापारी व किसानों की समस्याओं पर चिंता जताते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने समाज के सभी वर्गों की मदद किए जाने संबंधी सुझाव सरकार को दिए हैं।

योगी आदित्यनाथ को लिखे पत्र में प्रिंयका गांधी ने सुझाव देते हुए कहा है कि घर के लोन पर लगने वाली ब्याज दर को शून्य किया जाए तथा ईएमआई जमा करने की बाध्यता को भी अगले छह महीने के लिए स्थगित कर दिया जाए। इसके अलावा प्राइवट स्कूलों में फीस माफी से लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। वहीं किसानों की दिक्कतों को गिनाते हुए उन्होंने किसानों के चार महीने के ट्यूबवेल और घर के बिजली बिल माफ किया जाए। इतना ही नहीं उनके बकाया बिलों पर पेनाल्टी और ब्याज माफ हो। इसके अवाला कृषकों के हाथ में पैसा हो, इसके लिए जरूरी है कि सरकार किसानों के फसल खरीद की गारंटी सुनिश्चित करते हुए गन्ना सहित अन्य भुगतान तुरंत करे।

कांग्रेस महासचिव ने मांग की है कि शिक्षा मित्र, आशा बहनें, आंगनबाड़ी कर्मी, रोजगार सेवक व अन्य संविदा कर्मियों को प्रोत्साहन राशि दी जाए। इसके तहत सरकार उन्हें एक माह का वेतन बोनस के रूप में दे। वहीं लघु और कुटीर उद्योगों के लिए बुनियादी और जरूरी कदम उठाये जाने की मांग करते हुए कहा कि छोटे व मझोले उद्योगों का बैंक लोन माफ किया जाए।

लॉकडाउन के दौरान बुनकरों के नुकसान का जिक्र करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि बुनकरों, दस्तकारों के हर परिवार को हर महीने 12 हजार रुपये की क्षतिपूर्ति मिले। साथ ही बैंक लोन और बिजली कर माफ हो। वहीं उन्होंने पोल्ट्री कारोबारियों को प्रति मुर्गी 100 रुपये का आर्थिक सहयोग दिए जाने की भी मांग की है।

Back to top button
E-Paper