माँ की डांट का बुरा मान रेलवे ट्रैक पर आत्महत्या करने पहुँची कक्षा नौ की छात्रा, फिर जो हुआ…

क़ुतुब अंसारी / अशोक सोनी
जरवल ( बहराइच ) प्रभारी निरीक्षक थाना जरवलरोड  श्याम बहादुर सिहं को फोन पर मिली सूचना कि एक छात्रा अपना बैग रेलवे क्रसिंग पर रखकर आत्महत्या करने के नियत से लेट गयी है ट्रेन आने वाली है जिस पर बगैर देर किए एस ओ ने तत्काल मौके पर सिपाही हौसिला प्रसाद महिला सिपाही सरिता वर्मा को भेजा गया।उक्त दोनों सिपाहियों ने इलाकाई लोगो की मदद से छात्रा को रेलवे ट्रैक से समझा बुझाकर लाया गया । जो अपना नाम पता आशा गुप्ता पुत्री धनीराम गुप्ता निवासी विमलनगर थाना चिनहट बतायी तथा अपने पिता का मो0नं0 7234816332 बतायी और बताया कि मेरी मां कल मुझे कोचिंग से देर आने पर डांट दिया था ।
सुबह मुझसे ठीक से बात नही  कर रही थी जिससे मै परेशान होकर बस से जरवल रोड तिराहे पर उतरकर रेलवे क्रासिंग के पास बैग रखकर ट्रैक पर लेट गयी थी । छात्रा को समझाने बुझाने के बाद इसके द्वारा बताये गये मो0नं0 से इसके पिता से बाते की गयी तथा उनको बुलाया गया पीड़िता ने अपना नाम आशा गुप्ता कक्षा 9 की छात्रा है  की बात बताई जिसकी उम्र लगभग 13 वर्ष है । इसके पिता धनीराम पुत्र समोखन गुप्ता के द्वारा भी बताया गया कि आशा की मां देर आने पर डांट दिया था जिस पर नाराज होकर गलत कदम उठाने जा रही थी ।
जिसे आप लोगो ने बचा लिया गया। छात्रा आशा गुप्ता को म0का0 सरिता वर्मा के द्वारा काफी समझाने  बुझाने के बाद उसके पिता व उनके सहयोगी को समझाया गया कि आशा को अनावश्यक रुप से पड़ताड़ित न करे । और प्यार से रखना सुनिश्चित करे । आशा गुप्ता को बाद हिदायत उसके पिता को सुपुर्द कर उसके घर भेज दिया गया।
Back to top button
E-Paper