अखिलेश यादव के लिए सीट छोड़ने वाले विधायक सोवरन सिंह यादव के पुत्र मुकुल यादव को विधान परिषद भेजेगी सपा

लखनऊ पहुंचकर अखिलेश यादव की मौजूदगी में मुकुल ने किया नामांकन

भास्कर समाचार सेवा

मैनपुरी। पूर्व सांसद दर्शन सिंह यादव के भतीजे मुकुल यादव को समाजवादी पार्टी विधान परिषद भेजेगी। मुकुल यादव पूर्व विधायक सोवरन सिंह यादव के बेटे हैं 2022 के हुए विधानसभा चुनाव में सोवरन सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के लिए अपनी करहल विधानसभा सीट छोड़ दी थी। बताया जा रहा है कि सोवरन सिंह यादव को इसी का इनाम मिला है। सोवरन सिंह यादव ने अपने बेटे मुकुल यादव की विधान परिषद के जरिए राजनीति में एंट्री करा दी है। मुकुल यादव ने लखनऊ पहुंचकर आज राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ विधान परिषद के लिए नामांकन किया है। मुकुल यादव का विधान परिषद में जाना लगभग तय है। पूर्व विधायक सोवरन सिंह यादव ने अपने पुत्र मुकुल यादव को विधान परिषद भेज कर एक अच्छे और सफल राजनीतिज्ञ होने का परिचय दिया है।
सोवरन सिंह यादव करहल विधानसभा से चार बार विधायक रह चुके हैं। सोबरन सिंह यादव का करहल विधानसभा में अच्छा खासा प्रभाव माना जाता है। वह जनपद के वरिष्ठ समाजवादी नेताओं में गिने जाते हैं। मुकुल यादव के एमएलसी बनने से युवा वर्ग समाजवादी पार्टी से जुड़ेगा। मुकुल यादव समाज सेवा के माध्यम से कहीं ना कहीं क्षेत्र के लोगों से जुड़े रहते हैं। मुकुल यादव की युवा वर्ग में अपनी एक अलग पहचान है। मुकुल यादव के विधान परिषद में भेजे जाने पर समाजवादी पार्टी के नेताओं पूर्व सांसद तेज प्रताप यादव, पूर्व विधायक राजकुमार यादव, जिला अध्यक्ष देवेंद्र सिंह यादव, समाजवादी पार्टी के सांसद मुलायम सिंह यादव के प्रतिनिधि देवेंद्र यादव, जिला महासचिव सुखवीर यादव, पूर्व चेयरमैन घिरोर अनिल गुप्ता सहित समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने हर्ष व्यक्त किया है।

Back to top button