अलीगढ : साधु और दंपत्ति हत्याकांड के दो बदमामश ढेर, मुठभेड में एक इंस्पेक्टर भी घायल

राजीव शर्मा,

 

अलीगढ। पुलिस ने साधु और दंपत्ति हत्याकांड में शामिल दो बदमाशों को मुठभेड में ढेर कर दिया है। मुठभेड में एक इंस्पेक्टर भी घायल हो गया है।

थाना हरदुआगंज के गांव सपफेदपुरा के निकट मंदिर के पुजारी रामस्वरूप दास और एक दंपित्त योगेंद्र और उसकी पत्नी विमलेश की हत्या कर दी थी। इस तिहरे हत्याकांड से पुलिस के पसीने छूट गए। जिले में ऐसी कई वारदात से पुलिस की कानून व्यवस्था की पोल उजागर होने लगी। पुलिस ने इस हत्याकंाड का खुलासा कर दिया था। पता चला कि यह घटना दंगा कराने की नीयत किया गया है। पुलिस ने इस मामले का खुलासा कर दिया था। इस घटना में दो बदमाशों में नौशाद पुत्र राशिद व मुस्तकीम पुत्र इरफान निवासी गण शिवपुरी छर्रा हाल निवासी कसबा अतरौली पर 25-25 हजार रूपये इनाम बतौर देने की घोषणा भी पुलिस कर चुकी थी।

हरदुआगंज पुलिस ने गुरूवार सुबह मुठभेड में इन दोनों बदमाशों को मार गिराया। जबकि उसका साथी अफसर पुत्र अल्लाददीन जिला बंदायु फरार हो गया। इस मुठभेड में इंसपेक्टर पालीमुकीमपुर प्रदीप कुमार गोली लगने से घायल हो गए। इन्हें उपचार के लिये वरूण हास्पीटल में भर्ती कराया गया है।

हरदुआगंज थाना प्रभारी ने बताया कि बाइक लूटकर बदमाश अतरौली की ओर भागे थे। पुलिस साधु आश्रम चौराहा पर चेकिंग कर रही थी। तीन बदमाश आते दिखे और पुलिस घेराबंदी पर यह फायरिंग कर दी। यह बदमाश माछुआ नहर पुलिस के पास नहर किनारे खंडहर भवन में जा घुसे। सूचना पर एसएसपी सहित हरदुआगंज, अकराबाद, छर्रा, अतरौली, पाली बरला, जवां और क्वार्सी सहित कई थानों की पुलिस मौके पर आ गई और खंडहर में छिपे बदमाशों को मौत के घाट उतार दिया। बदमाश लूटी हुई बाइक पर ही सवार थे।

 

Back to top button
E-Paper