फिर यूपी हुआ शर्मसार : वृद्धाश्रम में 10 दिनों तक कमरे में रखा बंद, करता रहा किशोरी से रेप

देवरिया शेल्टर होम में बच्चियों से देह व्यापार और शोषण की जांच अभी जारी ही है, इस बीच गोरखपुर के चिलुआताल थाना क्षेत्र स्थित हेयर डेल वृद्धाश्रम में एक किशोरी को बंधक बनाकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. घटना 13 अगस्त की है. 10 दिनों तक किशोरी को कमरे में बंद रखा गया. गुरुवार को किसी तरह कैद से भागी किशोरी ने 100 नंबर पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी.

वृद्धाश्रम के मैनेजर अनुराग पांडेय के खिलाफ मुकदमा किया गया. दर्ज

इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस किशोरी को थाने लेकर आई, जहां उसके बयान पर वृद्धाश्रम के मैनेजर अनुराग पांडेय के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया. पुलिस ने रेप और पोक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर आरोपी मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया. नाबालिग किशोरी को मेडिकल जांच के लिए भेजा गया है. जल्द ही मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज करवाया जाएगा.

बता दें बेलिपार क्षेत्र की 16 वर्षीया किशोरी के पिता की मौत एक साल पहले हो गई थी, जिसके बाद वह तीन महीने पहले मोहरीपुर में रहने वाली अपनी मौसी के यहां आ गई. मौसी की बेटी ने ही उसे वृद्धाश्रम में रसोइया का काम दिलाया था. इसके बाद से वह वृद्धाश्रम में ही रह रही थी.

पुलिस के मुताबिक

13 अगस्त को किशोरी खाना बनाने और खाने के बाद अपने कमरे में चली गई. इसके बाद नौसढ़ निवासी वृद्धाश्रम का मैनेजर अनुराग पांडेय पहुंचा. अनुराग ने उसके कमरे में घुसकर मारपीट की और उसके साथ दुष्कर्म किया. मैनेजर ने धमकी दी थी कि अगर मुंह खोला और वृद्धाश्रम से बाहर गई तो जान से मार देगा. गुरुवार को मौसी का बेटा जब उससे मिलने गया तो किशोरी ने आपबीती बताई. इसके बाद मौसी के बेटे की मदद से वह पुलिस के पास पहुंची.

उधर वृद्धाश्रम के संचालक एलएल मौर्य ने कहा कि उन्हें घटना की जानकारी नहीं है. अभी मैं लखनऊ में हूं, शुक्रवार को गोरखपुर आना है. वृद्धाश्रम को समाज कल्याण विभाग से मदद मिलती है और इसकी मान्यता भी है.

Back to top button
E-Paper