UEFA फाइनल में रेंजर्स को हराकर इंट्राचैट फ्रैंकफर्ट ने 42 साल बाद जीता खिताब

सेविले में खेले गए UEFA यूरोपा लीग फाइनल में इंट्राचैट फ्रैंकफर्ट ने पेनाल्टी शूट आउट में रेंजर्स को 5-4 से हराकर 42 साल बाद दूसरा खिताब जीता। इससे पहले 1980 में फ्रैंकफर्ट ने बोरुसिया मोनचेंग्लादबाक को हराकर पहली बार यूरोपा खिताब अपने नाम किया था।

दूसरी बार रेंजर्स ने मारी बाजी

मैच के 54वें मिनट में मिडफील्डर जो एरिबो ने गोलकर टीम को 1-0 से बढ़ाई दिलाई। पर यह बढ़त फ्रैंकफर्ट ज्यादा देर तक बरकरार नहीं रख सकी। 12 वें मिनट बाद इंट्राचैट फ्रैंकफर्ट की ओर से गोल कर राफेल बोरे ने टीम को बराबरी पर ला खड़ा किया। वहीं एक्सट्रा टाइम में रेंजर्स के पास गोल करने का अच्छा मौका था, पर फ्रैंकफर्ट के गोलकीपर केविन ट्रैप ने शानदार गोल बचाकर मैच को पेनाल्टी शूटआउट में लेकर गए।

ट्रैप ने पेनाल्टी शूटआउट में भी एक गोल बचाया और टीम को 5-4 से जीत दिलाने में अहम भूमिक निभाई। पेनाल्टी शूट आउट में रेंजर्स की ओर से आरोन रैमसे एक गोल से करने चूक गए।

फाइनल जीतने से चूंक गई रेंजर्स

रेंजर्स दूसरी बार यूरोपा कप के इतिहास में फाइनल में पहुंची थी। इससे पहले इससे 2007-08 में भी रेंजर्स फाइनल में पहुंची थी, लेकिन उसे (FC जेनिट सेंट पीटर्सबर्ग) से 0-2 से हार का सामना करना पड़ा था।

UEFA यूरोपा लीग में 1997-98 से खेला जा रहा है एक फाइनल

UEFA यूरोपा लीग 1971-72 से खेला जा रहा है। 1996-97 तक फाइनल में दो मैच खेले गए जाते थे, लेकिन 1997-98 से सिंगल मैच खेला जा रहा है। सेविला FC ने सबसे ज्यादा 6 बार खिताब अपने नाम किया है। वहीं इंटर मिलान, लिवरपूल, जुवेंटस और एटलेटिको मैड्रिड ने 3-3 बार खिताब जीता है।

Back to top button