पुदुचेरी में स्वास्थ्य कर्मचारियों ने कोरोना मरीज के शव को गड्ढे में फेंका, VIDEO वायरल

पुदुचेरी
कोरोना वायरस से जंग के बीच पुदुचेरी में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां कुछ स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने एक कोरोना पॉजिटिव मरीज के शव को गड्ढे में फेंक दिया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया है। अब इस मामले की जांच और आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की जा रही है।

42 वर्षीय इस शख्स की कोरोना की वजह से गुरुवार को मौत हो गई थी। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के डर से कोई भी रिश्तेदार इसकी अंत्येष्टि में भाग लेने नहीं आया। इसके बाद हेल्थ वर्कर्स और अस्पताल के कर्मचारी ने शव को ऐंबुलेंस में रखा और फिर इसे कब्रिस्तान में फेंक दिया। हालांकि, पुदुचेरी के हेल्थ डायरेक्टर का कहना है कि हेल्थ डिपार्टमेंट के नियमों के मुताबिक अधिकारी शव को दफनाने ही ले जा रहे थे। अचानक शव उनके हाथों से फिसल गया। मामले की जांच की जा रही है।

पत्नी से मिलने आया था ससुराल
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वह शख्स चेन्नै का रहने वाला था और हाल ही में पुदुचेरी में अपनी पत्नी से मिलने ससुराल आया था। उसकी पत्नी और बच्चे लॉकडाउन की वजह से वहां फंस गए थे। ससुराल पहुंचते ही उसके सीने में तेज दर्द हुआ और उसे इंदिरा गांधी गवर्नमेंट जनरल हॉस्पिटल ऐंड पोस्ट ग्रैजुएट इंस्टीट्यूट (आईजीजीएचपीजीआई) में भर्ती कराया गया।



अस्पताल पहुंचने से पहले ही वह दम तोड़ चुका था। जांच में वह कोविड-19 मरीज निकला। जब उसकी अंत्येष्टि की बारी आई तो कोई भी रिश्तेदार अस्पताल नहीं पहुंचा। ऐसे में हेल्थ वर्कर्स उसे ऐंबुलेंस से स्ट्रेचर पर कब्रिस्तान ले गए और फिर वहां गड्ढे में फेंक दिया।


मेडिकल प्रोटोकॉल का पालन नहीं
इस वीडियो में स्वास्थ्य कार्यकर्ता कोरोना वायरस संकट से निपटने के लिए बनाए गए प्रोटोकॉल का पालन नहीं करते हुए शव को फेंकते हुए दिखे। इससे साफ पता चलता है कि हेल्थ वर्कर्स ने कोरोना मरीज के शव के अंतिम संस्कार के लिए बनाए गए नियमों का उल्लंघन किया। बता दें कि शनिवार को पुदुचेरी में कोरोना वायरस के तीन और मरीज मिले हैं और यहां मरीजों की तादाद 109 तक पहुंच गई है।

Back to top button
E-Paper