केरल की तबाही में फरिश्ता बना ये मछुआरा, देखे VIDEO

तिरुवनंतपुरम। केरल में आई बाढ़ से पूरे राज्य में तबाही का मंजर है। जगह-जगह भूस्खलन और पानी भरने से लाखों लोक बेघर हैं। एनडीआरएफ, सेना और कई एनजीओ केरल में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं। वहीं स्थानीय लोग भी एक-दूसरे की मदद को आगे आए हैं। इन्हीं में से एक है मलप्पुरम का एक मछुआरा जैसल केपी, जिसकी इंसानियत सोशल मीडिया पर लोगों का दिल जीत रही है।

पीठ पर बैठाकर लोगों को चढ़ाया

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक व्यक्ति लोगों को नाव में चढ़ाने के लिए झुका हुआ खड़ा है। लोग उसकी पीठ पर चढ़कर नाव में बैठ रहे हैं। इस व्यक्ति का नाम जैसल केपी है जो तानुर का रहने वाला है। 32 वर्षीय जैसल एक मछुआरा है और उसकी इंसानियत सोशल मीडिया पर लोगों का दिल जीत रही है। जैसल एनडीआरएफ के साथ मिलकर बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों की मदद कर रहा है। शनिवार को जैसल ने एनडीआरएफ के साथ मिलकर वेंगारा के मुथलीमद इलाके से 3 महिलाओं और एक बच्चे को सुरक्षित रेस्क्यू किया।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

बाढ़ से लोगों को रेस्कयू का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। जैसल इस वीडियो में झुककर लोगों को अपनी पीठ के सहारे लोगों को नाव में बैठा रहे हैं। वो पानी में काफी देर तक झुके हुए खड़े होते हैं और एक-एक कर महिलाएं उनकी पीठ पर चढ़कर नाव में बैठती हैं। सोशल मीडिया पर लोगों ने जैसल को असली हीरो बताया है।

केरल में पिछले 100 सालों में सबसे बड़ी त्रासदी

केरल में पिछले 100 सालों में सबसे बड़ी त्रासदी

जैसल ने मीडिया  को बताया कि वो रेसक्यू का काम स्वेच्छा से कर रहे हैं। ‘हम स्वेच्छा से ये काम कर रहे हैं ताकि कोई बिना मदद के ना रहे। हमारे पास कोई सेफ्टी गार्ड या उपकरण नहीं है। हम लोगों को बचाने के लिए अपनी जिंदगी दांव पर लगा रहे हैं।’ केरल में बाढ़ ने काफी तबाही मचाई है। पिछले 100 सालों में ये केरल की सबसे भयानक त्रासदी बताई जा रही है। जैसल ने बताया कि उन्होंने एक 21 महनी के बच्चे को बाढ़ से बचाया जो पानी में तैर रहा था। उस जगह नाव नहीं जा सकती थी, इसलिए जैसल ने खुद जाकर बच्चे को बचाया।

Back to top button
E-Paper