आर्मी जवान की हत्या से पहले आतंकियों ने किया ये खौफनाक काम, जानकर रह जायेंगे दंग

 à¤†à¤¤à¤‚की कर रहे पूछताछ

श्रीनगर। आतंकियों ने 44 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स के जवान औरंगजेब का एक वीडियो शुक्रवार को जारी किया है। यह वीडियो औरंगजेब की हत्‍या से पहले का है। राइफलमैन औरंगजेब 44 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स के साथ तैनात थे और आतंकियों ने गुरुवार को उनका अपहरण उस समय कर लिया था जब वह ईद की छुट्टी के लिए अपने घर जा रहे थे। पुंछ के रहने वाले कुछ घंटों बाद पुलवामा से 10 किलोमीटर दूर गुसू गांव में गोलियों से छलनी औरंगजेब की लाश पुलिस और सेना की सर्च टीम को मिली थी।

आतंकी कर रहे पूछताछ

इस वीडियो में आतंकी औरंगजेब से पूछताछ करते नजर आ रहे हैं। आतंकियों ने औरंगजेब का आखिरी वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया है। वीडियो में वह काली टी-शर्ट और नीली जींस पहने हुए हैं और आतंकियों के सवाल का जवाब दे रहे हैं। वीडियो में वह यह कहते हुए भी नजर आ रहे हैं कि उन्‍होंने और मेजर रोहित शुक्‍ला ने कश्‍मीर में समीर टाइगर समेत कई आतंकियों को मारा है। औरंगजेब ने आतंकियों को बताया कि उन्‍होंने मेजर रोहित शुक्‍ला के साथ मिलकर लश्‍कर-ए-तैयबा के तीन टॉप कमांडर्स और जैश-ए-मोहम्‍मद के कमांडर्स को मारा है। गुरुवार की शाम को उनका शव बरामद किया जा सका था। गुरुवार की सुबह आतंकियों ने उनका अपहरण किया था।

जानिए आतंकियों ने सेना के जवान औरंगजेब से क्या-क्या पूछा

आतंकी – क्या नाम है तेरा
औरंगजेब- औरंगजेब
आतंकी-बाप का नाम?
औरंगजेब- मोहमम्मद हनीफ
आतंकी-कहां रहते हो
औरंगजेब-पूंछ
आतंकी-ड्यटी किधर है
औरंगजेब-पुलवामा
औरंगजेब-सिपाही हूं…पोस्ट पर ड्यूटी करता हूं
आतंकी -शुक्ला का गार्ड है मतलब तू
आतंकी-उसके साथ में सिविल में तू ही आता है ना
औरंगजेब-हां
आतंकी -मोहम्मद, वसीम और तल्हा  भाई के एनकाउंटर में तूने ही किया था
आतंकी -तूने ही बिगाड़ा था जिस्म को
औरंगजेब-नहीं मेरे हाथ में लगी थी
आतंकी -क्या लगी थी
औरंगजेब-मेरा हाथ टूट गया था
आतंकी -आतंकी उनके लाश की बेहूरमती किसने की थी
औरंगजेब—फायर से हुआ था
आतंकी- तीनों की बेहूरमती की थी
औरंगजेब- जी हां फायर किया था
आतंकी–आतंकी शहीद होने के बाद ?
औरंगजेब-हां

 

हत्‍या के पीछे है आईएसआई

हत्‍या के पीछे है ISI 

सूत्रों की मानें तो औरंगजेब की हत्‍या के पीछे पाकिस्‍तान की इंटेलीजेंस एजेंसी आईएसआई का हाथ हो सकता है। औरंगजेब को बंदूक की नोक पर आंतकियों ने पुलवामा के कलामपोरा से अगवा किया था। इंटेलीजेंस ब्‍यूरो (आईबी) के सूत्रों की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक पाकिस्‍तानी इंटेलीजेंस एजेंसी आईएसआई घाटी में इंडियन आर्मी की ओर से चलाए जा रहे एंटी-टेरर ऑपरेशंस को लेकर काफी नाराज है। आईएसआई को यह बात नागवार गुजर रही है कि घाटी में आजादी के लिए आतंकी संगठनों ने ‘जेहाद’ छेड़ा है, उसके काम में इंडियन आर्मी बाधा डाल रही है। सूत्रों का दावा है कि औरंगजेब का अपहरण करके फिर उनकी हत्‍या करने की योजना आईएसआई ने सुरक्षाबलों को मजा चखाने के मकसद से बनाई थी।

पिता ने दिया बदला लेने का अल्‍टीमेटम

पिता ने दिया मोदी सरकार 72 घंटों का अल्‍टीमेटम

पुलिस की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक आतंकियों ने औरंगजेब के सिर और गले में गो‍ली मारी है। राइफलमैन औरंगजेब 4 जम्‍मू कश्‍मीर लाइट इंफेंट्री के जवान थे लेकिन शोपियां के शादीमर्ग स्थित 44 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स के कैंप के साथ अटैच्‍ड थे। औरंगजेब के पिता ने शुक्रवार को राज्‍य और केंद्र सरकार को अल्‍टीमेटम दिया है कि वह 72 घंटों के अंदर उनके बेटे के हत्‍यारों का पता लगाए नहीं तो वह खुद अपने बेटे की मौत का बदला लेने निकल पड़ेंगे। उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करते हुए कहा, ‘मैं नरेंद्र मोदी को 72 घंटों को समय अपने बेटे के हत्‍यारों से बदला लेने के लिए दे रहा हूं नहीं तो फिर हम खुद उसके हत्‍यारों से बेटे की मौत का बदला लेंगे।’

 

Back to top button
E-Paper