दिल्ली में पिटाई कांड का पूरा सच : आरोपी ने पहले टॉयलेट में किया था रेप…

रोहित तोमर ने मारपीट से पहले किया रेप

नई दिल्ली। दिल्ली के तिलकनगर में लड़की की बेरहमी से पिटाई करने के मामले में एक नया खुलासा हुआ है। आरोपी रोहित तोमर ने एक लड़की की बेरहमी से पिटाई कर उसका वीडियो बनाया था,

जिसका वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो जाने के बाद उसे गिरफ्तार किया गया। वीडियो में दिखाई देने वाली पीड़िता ने सामने आकर खुलासा किया है कि रोहित ने मारपीट करने से पहले उसका रेप किया था। पीड़िता ने बताया की रोहित ने बीपीओ के टॉयलेट में उसका रेप किया था।

रोहित तोमर ने मारपीट से पहले किया रेप

एक अख़बार  की खबर के मुताबिक वायरल वीडियो में पिटाई के मामले में आरोपी रोहित तोमर ने न केवल लड़की से मारपीट की, बल्कि उसका रेप भी किया था। पीड़िता ने खुलासा करते हुए बताया कि रोहित और वो पिछले तीन साल से रिलेशनशिप में थे। उन्होंने बताया, ‘2 सितंबर को रोहित ने मुझे उत्तम नगर के एक बीपीओ में बुलाया। मैंने उसे कई बार कहा कि मैं नहीं आउंगी, लेकिन उसके बार-बार बुलाने पर मैं मिलने के लिए तैयार हो गई। उससे बात करते वक्त मुझे कई बातों का पता चला।’

दोनों तीन साल से थे रिलेशनशिप में

दोनों तीन साल से थे रिलेशनशिप में

पीड़िता ने कहा कि जब उसने विरोध किया, तो रोहित ने मारपीट शुरू कर दी। पीड़िता को रोहित के दोस्त ने बताया था कि वो उसे धोखा दे रहा है। ‘रोहित और मैं पिछले तीन साल से साथ में हैं। हमारी मुलाकात एक कॉमन फ्रेंड के जरिये हुई थी। उसने मुझसे शादी करने का वादा किया था। 2 सितंबर को अली हसन (रोहित का दोस्त, जिसने वीडियो बनाया था) ने मुझे एक दूसरी लड़की के बारे में बताया। मैंने रोहित से किसी एक को चुनने और दो जिंदगियां ना बर्बाद करने के लिए कहा। पहले तो उसने इन आरोपों से इनकर कर दिया। फिर जब मैं जाने के लिए उठी, तो उसने मारपीट करना शुरू कर दिया।’

गृहमंत्री की दखल के बाद पुलिस ने तेज की कार्रवाई

गृहमंत्री की दखल के बाद पुलिस ने तेज की कार्रवाई

पीड़िता ने बताया, ‘मेरे अंदर भागने की ताकत नहीं थी। उसने मुझे पेट में इतनी तेज मारा कि मैं अभी तक खा नहीं पा रही हूं। अली हसन, जिसने वीडियो रिकॉर्ड किया, वो उसे बार-बार रोकने के लिए कह रहा था, लेकिन उसने मेरी कोई मदद नहीं की। मुझे मारने से पहले रोहित ने मेरा रेप किया था।’ पीड़िता की शिकायत के बाद रोहित तोमर को मारपीट और रेप के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इस मामले पर खुद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने संज्ञान लिया था।

'राजनाथ सिंह के ट्वीट के बाद आई हिम्मत'

‘राजनाथ सिंह के ट्वीट के बाद आई हिम्मत’

पीड़िता ने कहा कि राजनाथ सिंह के ट्वीट के बाद उसमें हिम्मत आई। ‘जब राजनाथ सिंह ने मेरे लिए ट्वीट किया, तब मेरे अंदर बोलने की हिम्मत आई। मुझे लगा कि अगर मैं चुप रही, तो इसके साथ पूरी जिंदगी रहना पड़ेगा।’ पीड़िता ने बताया कि पुलिस उनका काफी सपोर्ट कर रही है और उन्होंने पीड़िता से कहा कि आरोपी को सजा जरूर मिलेगी। बता दें कि रोहित के एएसआई पिता अशोक तोमर पर भी दिल्ली पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सस्पेंड कर दिया है। अशोक तोमर पर पीड़िता के परिवार को धमकाने का आरोप है।

Back to top button
E-Paper