अंतरिक्ष में यात्रियों की जान बचाएगा जीवन रक्षक कैप्सूल, जानिए कैसे

नई दिल्ली । अंतरिक्ष में कई ऐसी घटनाएं हो जाती हैं जो काफी अप्रिय होती हैं। कई बार बड़े प्रोजेक्ट भी धराशाई हो जाते हैं, जिससे धनहानी के साथ ही जनहानी भी होती है। हालांकि अब इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (इसरो) ने इसका हल खोजने की कोशिश की है। इसरो एक ऐसा कैप्सूल बनाया है जिसे अंतरिक्ष यात्री अपने साथ ले जा सकेंगे। श्रीहरिकोटा में यह परीक्षण किया गया। कैप्सूल का प्रयोग अतंरिक्ष यात्री स्पेस में किसी दुर्घटना के वक्त अपनी सुरक्षा के लिए कर सकेंगे।

‘सफल रहा हमारा परीक्षण’

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इसरो के चेयरमैन के. सीवान ने बताया कि क्रू बेलआउट सिस्टम पर कैप्सूल परीक्षण का प्रयोग किया गया और यह पूरी तरह से सफल रहा। इसके लिए किसी आदमी की जगह पर क्रू मॉडल का प्रयोग किया गया था। मॉडल कैप्सूल में अटैच किया गया था और इसे रॉकेट इंजन से जोड़ा गया। लॉन्च के कुछ देर बाद पैराशूट भेजा गया और कैप्सूल सुरक्षित तरीके से समुद्र में निर्धारित स्थान पर उतर गया।’

259 सेकेंड का था टेस्ट

चेयरमैन के. सीवान ने बताया कि हमारा टेस्ट उम्मीदों के अनुसार ही रहा। सब कुछ अच्छा हुआ। 259 सेकेंड का यह परीक्षण था। उन्होंने कहा कि भविष्य में एयरप्लेन मोड वाले अंतरिक्ष कैप्सूल लॉन्च करने की भी योजना है।

Back to top button
E-Paper