अन्न दाताओं को किसान से उद्यमी बनाने  के लिए राज्य सरकार ने द मिलियन फार्मर्स स्कूल खोले 

गाजियाबाद प्रदेश के अन्न दाताओं को किसान से उद्यमी बनाने  के लिए राज्य सरकार ने द मिलियन फार्मर्स स्कूल (किसान पाठशाला )खोल दिए हैं ।  इन स्कूलों में किसानों को कृषि उत्पादन बढ़ाने के प्रगतिशील तरीके, फर्टिलाइजर्स रहित जैविक खेती, बुवाई की तैयारी व सिंचाई करने जैसी आधुनिक व परम्परागत तरीके बताये जा रहे हैं । गाजियाबाद में इस स्कूल की कक्षाएं आगामी 17जून से शुरु हो रही हैं जो 20जून तक चलेंगी ।
उप संभागीय कृषि प्रसार अधिकारी चरण सिंह ने बुधवार को एक एक्सक्लूसिव बातचीत में बताया कि इन पाठशालाओं के लिए विभाग ने मैराथन प्रशिक्षण देने के बाद कृषि विभाग के ही कर्मचारी व अधिकारियों की नियुक्ति मास्टर ट्रेनर की नियुक्ति की गयी है जो उन्ही की भाषा में प्रशिक्षित करेंगे ।  उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये मास्टर ट्रेनरों को टेस्ट प्रक्रिया के बाद ग्राम पंचायतों में इन स्कूलों में किसानों को प्रशिक्षण देने के लिए भेजा है ।

उन्होंने बताया कि गाजियाबाद की मोदीनगर तहसील में प्रथम चरण में चार दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम 13जून को समाप्त हो रहा है जबकि गाजियाबाद में यह प्रशिक्षण 17जून को शुरू होने जा रहा हैं ।उन्होंने बताया कि कम खर्च कर अधिक कृषि उत्पादन करने की यह अनूठी पहल शुरू की गयी है । श्री सिंह ने बताया कि इस समय खरीफ की फ़सल बोने का समय आ गया है । खरीफ की फसलों में ज्वार, मक्का, बाजरा,धान, दलहन, तिलहन, मशरूम आदि शामिल हैं । इसके अलावा किसानों को मधु मक्खी पालन, कु कूट मुर्गा पालन, मत्स्य आदि के बारे में जानकारी दी जा रही है ।

Back to top button
E-Paper