एक्ट्रेस ने पुलिस पर तानी “टॉय गन” बदले में मिली खौफनाक मौत…

हॉलीवुड एक्ट्रेस ने पुलिस पर तानी नकली बंदूक, असल समझ अफसरों ने मार दी गोली

लॉस एंजेलिस। कई बार डर या जरूरत से ज्यादा समझदारी जानलेवा साबित होती है। ऐसा ही कुछ हॉलीवुड अभिनेत्री वनीसा मार्केज के साथ हुआ है। हॉलीवुड की यह एक्ट्रेस एक छोटी सी नादानी के कारण अपनी जान गंवा बैठी। दरअसल, इस एक्ट्रेस ने अपने घर आई पुलिस पर नकली बंदूक तान दी और उसे असल समझ अफसरों ने एक्ट्रेस को ही ढेर कर दिया।

जानकारी के अनुसार मार्केज ने पुलिस पर असली दिखने वाली बीबी बंदूक (खिलौना गन) तान दी थी, जिसके बाद पुलिस ने गोली चलाई और उनकी मौत हो गई। पुलिस उनके घर मकान मालिक के फोन के बाद वेल्फेयर चेक के लिए गई थी। लेकिन उस वक्त मार्केज बंदूक के साथ खड़ी थीं। पुलिस को ओपन फायर करनी पड़ा और उसमें एक्ट्रेस की जान चली गई।

पुलिस ने मार्केज से करीब डेढ़ घंटे तक बात की

बताया जा रहा है कि जब पुलिस मार्केज के लॉज एंजिलिस के पासाडेना स्थित घर पहुंची, तो मार्केज की मानसिक हालत ठीक नहीं लग रही थी। पुलिस ने तुरंत मेंटल हेल्थ क्लीनिक से संपर्क साधा। पुलिस और मेंटल हेल्थ क्लिनिक के अधिकारी ने मार्केज से करीब डेढ़ घंटे तक बात की, ताकि उन्हें जरूरी मदद दी जा सके।

ठीक नहीं थी मानसिक हालत

समझाने के बावजूद मार्केज सुनने को तैयार नहीं थीं। इसके बाद उन्होंने एक हैंडगन पुलिस अधिकारियों की तरफ तान दी, जिस कारण पुलिस को गोली चलानी पड़ी। तब तक पुलिस को पता नहीं था कि मार्केज के पास जो गन है, वो नकली है। जब जांच हुई तो पुलिस ने पाया कि मार्केज के पास एक बीबी गन थी, जिससे वे पुलिस अधिकारियों को धमका रही थीं। बताया जा रहा है कि मार्केज मानसिक समस्याओं से जूझ रही थीं।

जॉर्ज क्लूनी पर लगाया था गंभीर आरोप

बता दें कि अमेरिका की हिट टीवी सीरिज ‘ईआर’ में नर्स ‘वेंडी गोल्डमैन’ रोल के लिए मार्केज को हमेशा याद किया जाएगा। उन्होंने ‘सेनफील्ड’ और ‘ब्लड इन ब्लड आउट’ में भी काम किया था। पिछले साल वे हॉलीवुड अभिनेता जॉर्ज क्लूनी पर यौन शोषण और भेदभाव का आरोप लगाने के कारण भी चर्चा में रही थीं। क्लूनी ‘ईआर’ में उनके को-स्टार थे। उन्होंने क्लूनी पर आरोप लगाया था कि यौन उत्पीड़न और नस्लीय भेदभाव पर बोलने के कारण क्लूनी ने उन्हें शो से ब्लैकलिस्ट करा दिया था। हालांकि क्लूनी में इस आरोप के जवाब में कहा था कि उनका कास्टिंग में कोई हस्तक्षेप नहीं था।

Back to top button
E-Paper