निर्जला एकादशी के दिन अवश्य करें ये उपाय, दूर होंगी ये मुसीबतें

नई दिल्ली। हिंदू धर्म में एकादशी का व्रत बहुत ही प्रचलित व्रत माना जाता है। साल में 24 एकादशी व्रत आते हैं और उन सभी में निर्जला एकादशी सबसे अधिक महत्वपूर्ण मानी जाती है। शास्त्रों के अनुसार कहा जाता है कि इस दिन का व्रत करने से पूरे साल की एकादशी के व्रत का फल प्राप्त होता है। इस व्रत को करते समय ध्यान रखना चाहिए कि आपके मन में संयम हो, दूसरे के प्रति हीन भावना ना हो वरना आपको नुकसान भुगतना पड़ सकता है। निर्जला एकादशी के दिन दान करने का खास महत्व माना जाता है जिससे कई तरह की मुसीबतों से छुटकारा मिलता है। आइए जानते हैं कि वे कौन सी महत्वपूर्ण चीज़ें जिन्हे निर्जला एकादशी के दिन दान करने से फायदा मिलता है।

1.शास्त्रों के अनुसार बताया गया है कि निर्जला एकादशी के दिन सामर्थ्य अनुसार दान करने से भगवान विष्णु को प्रसन्न करने में सहायता मिलती है।

2.इस दिन पानी का दान बहुत लाभकारी माना जाता है इसलिए सार्वजनिक रूप से जल वितरण करना चाहिए जिससे लाभ मिलता है।

3.निर्जला एकदाशी के दिन अन्न दान का महत्व बताया गया है इसलिए ग़रीब एवं ज़रूरतमंद लोगों को अन्न का दान ज़रुर करें।

4. ब्राह्मण पूजन और साथ ही ब्राह्मण को ज़रुरी चीज़ों दान देने से फायदा मिलता है इसके प्रभाव से जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव बढ़ता है।

5.भगवान विष्णु के मंदिर में जाकर आम,खरबूजे आदि फल उन्हे अर्पण करें और साथ ही इन फलों का दान भी करें जिससे पारिवारिक समस्याएं खत्म होती है।

6.विष्णु जी के मंदिर में जल से भरी मिट्टी की सुराही का दान करें शास्त्रों में इसका खास महत्व बताया गया है और इसका प्रभाव सकारात्मक पड़ता है।

7.चीनी और दूध का दान करना निर्जला एकादशी के दिन उपयोगी माना जाता है इसलिए ग़रीब जन को इन चीज़ों का दान किया जाना चाहिए।

8.इस दिन सामर्थ्य अनुसार धन का दान करने का भी महत्व माना जाता है इसलिए धन का दान करके जीवन को दोष मुक्त बनाया जा सकता है।

9.जीवन में सुख-समृद्धि बनी रहे इसलिए निर्जला एकादशी के दिन दूध का भी दान करना चाहिए। दूध का दान करने से आर्थिक समस्याएं खत्म होती हैं।

10.इसके अलावा निर्जला एकादशी के दिन ज़रूरतमंद लोगों को कपड़ों का दान करने से भी समस्याओं से मुक्ति पाने में सहायता मिलती है।

Back to top button
E-Paper