आबकारी विभाग के नए नियमों के मुताबिक शराब की एक खुली बोतल ले जाने की होगी अनुमति, सीलबंद नहीं

दिल्ली से यूपी शराब ले जाने वाले जाएंगे जेल
मुकेश उपाध्याय
नई दिल्ली। दिल्ली से एक के साथ एक फ्री शराब की बोतल ले जाने वाले नोएडा, गाजियाबाद के लोगो सावधान। अगर एक भी शराब की सीलबंद बोतल ले जाते हुए पकड़े गए तो सीधे जेल की हवा खानी पड़ सकती है। हां एक शराब की बोतल ले जाने की अनुमति होगी और वह भी खुली हुई। यह नियम अभी यूपी वालों के लिए ही लागू होगा। कुछ दिन बाद यह नियम हरियाणा के लिए भी लागू होगा सकता है।
दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के चलते कई शराब के ठेकों पर एक बोतल की खरीद पर दूसरी मुफ्त मिल रही है। वहीं, कुछ जगह एक पेटी खरीदने पर दूसरी पेटी फ्री मिल रही है। इसके चलते बड़ी संख्या में नोएडा- ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद के भी लोग दिल्ली से शराब खरीद कर ला रहे हैं। इससे यूपी के आबकारी विभाग को राजस्व का नुकसान हो रहा है। साथ ही, शराब तस्करी की घटनाएं भी बढ़ रही हैं। ऐसे लोगों पर पुलिस और आबकारी विभाग की कड़ी नजर है।
दिल्ली के आबकारी विभाग उपायुक्त आनंद तिवारी और पंकज भटनागर के साथ यूपी के संयुक्त आबकारी आयुक्त महेंद्र सिंह और जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह ने बैठक की। बैठक में सभी मुद्दों पर चर्चा हुई। चर्चा में साफ हुआ कि दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के तहत यूपी के राजस्व को काफी नुकसान हो रहा है।
दिल्ली में शराब की नई नीति के बाद लोग गाड़ियों में बोतल ले जा रहे हैं। बैठक में यह तय हुआ कि दिल्ली के ठेके पर एक व्यक्ति को एक दिन में 9 लीटर ही शराब दी जाएगी। इससे अधिक खरीदने और बेचने वाले के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी, इसलिए टीम को अलग-अलग एरिया में लगाया जाएगा। साथ ही बॉर्डर से शराब की तस्करी करने वालों के खिलाफ दिल्ली की आबकारी टीम भी अभियान चलाएगी। यूपी में शराब ले जाने वालों के लिए सिर्फ एक बोतल ले जाने की अनुमति होगी और वह भी खुली हुई। सीलबंद बोतल ले जाने वालों को अनुमति नहीं मिलेगी। अगर ऐसा करता कोई व्यक्ति पकड़ा गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऐसे में उस व्यक्ति शराब की तस्करी के आरोप में जेल भी भेजा जा सकता है।
आबकारी विभाग के अधिकारियों ने बताया कि ऐसे तस्करी करने वाले लोगों के लगातार जांच अभियान चलाकर कार्रवाई की जा रही है। लोग दिल्ली से शराब लाकर अगर सप्लाई करेंगे तो उससे राजस्व का नुकसान होगा। ऐसे में दिल्ली बॉर्डर के आसपास विभाग ने कर्मचारियों को सतर्क कर दिया गया है। संदेह होने पर गाड़ियों की तलाशी भी ली जा रही है।

Back to top button