लोकतंत्र का अपहरण करने वाली भाजपा को जनता देगी जवाब : अखिलेश

लोकतंत्र का अपहरण करने वाली भाजपा को जनता देगी जवाब : अखिलेश

लखनऊ। केन्द्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर लोकतंत्र का अपहरण करने की साजिश रचने का आरोप लगाते हुये समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि अगले साल लोकसभा चुनाव में जनता इसका मुंहतोड़ जवाब देने के लिये कमर कस चुकी है।

यादव ने सोमवार को पार्टी मुख्यालय में साइकिल यात्रा में शामिल नौजवानों को संबोधित करते हुये कहा कि भाजपा लोकतंत्र का अपहरण करने की साजिश में जुटी है। अर्थव्यवस्था की रफ्तार बढ़ाने की बजाय वह युवा पीढ़ी के भविष्य को अंधेरे में पहुंचा रही है। श्रमिकों को बेरोजगार बना रही है। 2019 में भाजपा से आक्रोशित जनता की लड़ाई बूथ पर होगी।

उन्होने ‘आयुष्मान भारत‘ योजना को भाजपा का धोखा बताते हुए कहा कि इस योजना से सरकारी अस्पताल कमजोर होंगे जबकि प्राइवेट संस्थाएं मजबूत होगी। समाजवादी सरकार के समय सरकारी अस्पतालों में बेहतर इलाज की सुविधा थी। गंभीर बीमारियों हार्ट, किडनी, लीवर, कैंसर तक के मुफ्त इलाज की व्यवस्था की गई थी।

यादव ने कहा कि बेहतर इलाज की सरकारी सुविधा के लिए केवल मेडिकल कालेज का भवन ही नहीं, नर्स, डाक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ की भी जरूरत होती है। इनके अभाव में चिकित्सा संस्थान को मान्यता नहीं मिलती है। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार में लोहिया अस्पताल के अलावा जौनपुर, आजमगढ़, बदायूं, में भी अच्छे अस्पताल बनाए गए थे।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के निर्माण में गाजीपुर बलिया, को छोड़ दिया है जबकि उनकी सरकार उन्हें जोड़कर बनाना चाहती थी। हम मण्डियां और सड़क बना रहे थे। उन्होंने कहा कि रफ्तार से अर्थव्यवस्था तिगुनी बढ़ती है।
यादव ने अपनी सरकार की उपलब्धियों का बखान करते हुये कहा कि उनके कार्यकाल में लखनऊ में उच्च न्यायालय का भवन, विधानसभा के सामने हूबहू लोकभवन, के अतिरिक्त जेपी इंटरनेशनल सेंटर का निर्माण किया गया। यह दिल्ली के हैवीटेट सेंटर से बेहतर बना है। इसमें स्विमिंगपूल, हेलीकाप्टर उतरने का स्थान, स्पोर्ट्स सेंटर, संग्रहालय भी बना है। जेपी सेंटर में जय प्रकाश जी के जीवन संघर्ष की गाथा के साथ ‘थाली आंदोलन‘ को भी दर्शाया गया है। राजधानी में लोहिया पार्क के बाद एशिया का सबसे बड़ा जनेश्वर मिश्र पार्क भी बनाया है।

 

Back to top button
E-Paper