सफाई कर्मी उड़ा रहे गुलछर्रे गाँवो मे बजबजा रही नालियां

ग्रामीणों ने खोला मोर्चा भेजा अधिकारियों को शिकायती पत्र
क़ुतुब अंसारी / अशोक सोनी
जरवल ( बहराइच ) गाँवो की चोक हो चुकी नालियों व सडको पर जगह-जगह डम्प हो चुके कूड़े के ढ़ेरो से अब तो सफाई कर्मियों को भी कोई लेना देना ही शायद नही रह गया है जरवल विकास खण्ड की शायद ही कोई एसी ग्रामसभा होगी जहाँ पर तैनात सफाई कर्मी नियमित रूप से अपने कर्तव्यों का निर्वाह कर रहे हो ज्यादातर सफाई कर्मी यही विकास खण्ड मुख्यालय पर बाबूगिरी करते देंखे जा रहे हैं या फिर चाय पान की दुकानों पर।जिसकी एक बानगी ग्राम पंचायत हरनी औसेरी को ही देखे बताते चले यहाँ के मन बढ़ सफाई कर्मीयो के गायब रहने से सफाई व्यवस्था चौपट हो गयी है ग्राम प्रधान सहित दर्जनों ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों को पत्र भेज कर सफाई कर्मी के विरुद्ध कार्यवाई की मांग की है।
विकास खण्ड जरवल के ग्राम पंचायत हरनी औसेरी में सफाई कर्मी राम औतार की तैनाती है ग्रामीणों का आरोप है कि कई माह से सफाई कर्मी गाँव की साफ सफाई करने नही आया जिसके चलते घरों के सामने बनी नालियां पूरी तरह से चोक हो गयी है और गंदा पानी घरों में जा रहा है।
ग्राम प्रधान प्रतिनिधि अन्नू शुक्ला,अभय शकर शुक्ला,पंचराज,श्री प्रकाश,अली हैदर,मोहम्मद सलीम,जमालुद्दीन, मुबारकअली,प्रदीप गुप्ता,ननकू वर्मा सहित दर्जनों लोगों ने खण्ड विकास अधिकारी जरवल राम औतार सिंह को शिकायती पत्र भेज कर सफाई कर्मी में विरुद्ध कार्यवाई की मांग की है।ध्यान रहे उक्त गाँव की भीषण गंदगी कभी भी संक्रामक रोग को दावत दे सकती है इसके बावजूद भी विभागीय लोग आँख कान बन्द किए जिससे योगी व मोदी जी के स्वच्छ भारत मिशन को भी यहाँ पलीता लगा रहे हैं।
 *इतनी ग्राम सभाओं की कहा तक जानकारी रखूं-ए डी ओ पंचायत*
जरवल।ग्रामीण इलाकों में सफाई कर्मियों की तैनाती के बावजूद विकास खण्ड पर ही गुलछर्रे उड़ाने को लेकर ए डी ओ पंचायत अशोक कुमार श्रीवास्तव से जब बात की तो उन्होंने कहाँ की मेरी जानकारी तो है पर कोई लिखित शिकायत दर्ज करवाए तब न प्रधान व सिग्रेटरी तो आंख बन्द करके मस्टररोल तैयार करवा देते है यदि गावो मे सफाई कर्मी नही जा रहा है तो मस्टररोल पर हस्ताक्षर क्यो करते है न करे।
Back to top button
E-Paper