कानपुर में हत्याकांड : नाबालिग ने बहन के लवर को चाकू से गोदकर उतारा मौत के घाट, पुलिस ने 2 को किया अरेस्ट

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानुपर में शुक्रवार देर रात एक नाबालिग ने बहन के प्रेमी को अपने हमउम्र के लड़कों के साथ मिलकर चाकुओं से हमला कर दिया। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने गंभीर रूप से घायल युवक को उर्सला अस्पताल ले गई। जहां डाक्टरों ने उसे हैलट अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। युवक की उपचार के दौरान मौत हो गई। इस वारदात के बाद पूरे क्षेत्र में तनाव उत्पन्न हो गया। तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में फोर्स तैनात कर दी गई है। वहीं पुलिस ने प्रमिका के भाई, पिता और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

जानकारी के अनुसार, बाबूपुरवा थाना क्षेत्र स्थित बेगमपुरवा में रहने वाले महमूद आलम (17) कढाई का काम करता था। महमूद के आलम के पिता मकसूद आलम की पहले ही मौत हो चुकी थी। महमूद आलम का मोहल्ले की एक लड़की (16) से प्रेम प्रसंग चल रहा था। प्रमिका का 17 वर्षीय लड़की का भाई इस प्रेम प्रसंग का विरोध करता था। प्रमिका के भाई के भाई ने कई बार महमूद को समझाने का प्रयास किया था। लेकिन महमूद अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था।

नाबालिग ने साथियों के साथ बहन के प्रेमी पर बोला हमला

लड़की के भाई ने शुनिवार देर लगभग 11 बजे महमूद आलम को मिलने के लिए बुलाया था। लड़की के भाई ने महमूद को घेर लिया इस बीच दोनों के बीच कहासुनी होने लगी। नाबालिग ने अपने साथियों के साथ मिलकर महमूद आलम पर चाकुओं हमला कर दिया। चीख पुकार मचने के बाद प्रमिका का भाई साथियों के साथ मौके से फरार हो गया।

घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने देररात आरोपी के दो साथियों को गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही आरोपी की तलाश की जा रही है। इस घटना के बाद दोनों परिवार के सदस्य एक दूसरे के सामने आ गए। पुलिस ने स्थिति को संभालते हुए फोर्स तैनात कर दिया है। 

Back to top button
E-Paper