नारद जयंती के अवसर पर सभा का आयोजन , जनसंचार उत्सव एवं पत्रकार अभिनंदन समारोह

भास्कर समाचार सेवा-

साहिबाबाद Iराजेंद्र नगर स्थित स्वामी विवेकानंद सरस्वती विद्या मंदिर में नारद जयंती के उपलक्ष में  जनसंचार उत्सव एवम् पत्रकार अभिनंदन समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता पत्रकार एसपी चौहान ने इस अवसर पर कहा कि बिना नैतिक मूल्यों के पत्रकारिता हो या अन्य सामाजिक कार्य सब बेमानी हैं। कार्यक्रम का शुभारंभ विद्यालय के प्रधानाचार्य विशोक कुमार एवं समारोह के मुख्य वक्ता पत्रकार एसपी चौहान ने सरस्वती के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्वलित करके किया। तदुपरांत स्कूल के छात्रों द्वारा सरस्वती वंदना एवं अतिथियों के अभिनंदन में गीत की प्रस्तुति हुई। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता एसपी चौहान ने महर्षि नारद को आदि पत्रकार बताया। उन्होंने कहा कि नारद जी दुनिया के सबसे पहले पत्रकार थे जो जनता की परेशानी राजा और देवताओं के सामने रखते थे तथा जनता के सामने राजाओं और देवताओं के विशिष्ट कार्य और संदेशों को पहुंचाते थे। इसके अलावा उन्होंने भारतीय संस्कृति और अध्यात्म से संबंधित कंठस्थ ज्ञान को लिपिबद्ध करने का काम किया।हमारे देश में सबसे पहले पत्रकारिता की शुरुआत उत्तंड मार्तंड नाम के समाचार पत्र से हुई। पत्रकारिता के क्षेत्र में आज के दौर में नए नए प्रयोग हो रहे हैं और सोशल मीडिया के आने के कारण हर आदमी पत्रकार होगया है। हम सोशल मीडिया के माध्यम से समाज की बहुत बेहतरीन तरीके से सेवा कर सकते हैं लेकिन दुर्भाग्य से सोशल मीडिया में नकारात्मक भाव की बातें छाई रहती हैं जो दुर्भाग्यपूर्ण है और पत्रकारिता के मानदंड को कलंकित करती हैं। उन्होंने कहा कि बिना नैतिक मूल्यों के कोई पत्रकारिता हो या अन्य सामाजिक कार्य सुखदाई नहीं हो सकता। इसलिए जरूरत है कि बच्चों को नैतिक शिक्षा हमें देनी होगी। नैतिक शिक्षा देने का पहला दायित्व माता का होता है और इसके बाद विद्यालय के शिक्षकों का। उन्होंने अपील की के स्वामी विवेकानंद विद्या मंदिर के शिक्षक बच्चों को नैतिक मूल्यों के प्रति संदेश देकर उन्हें एक अच्छा नागरिक बनाने का काम करेंगे। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य विशोक कुमार ने छात्रों की नैतिक शिक्षा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता बताई तथा कहा कि उनके विद्यालय के के आचार्य अपने विद्यालय के अलावा अन्य विद्यालयों में भी छात्र छात्राओं को नैतिक प्रशिक्षण देने के लिए जाते रहते हैं। कार्यक्रम का समापन शिशु मंदिर की प्रधानाचार्य श्रीमती शीतल जिंदल द्वारा धन्यवाद ज्ञापन से किया गया।कार्यक्रम का संयोजन शिक्षिका श्रीमती ललिता त्यागी ने किया। विद्यालय के छात्र पृथ्वी ,रौनक ,हर्षित ,अक्षांश कार्तिक,यथार्थ, अभिनव द्वारा स्वागत गीत गाया गया। छात्र अक्षत ने विद्या भारती का वार्षिक गीत गाकर सबका मन मोह लिया ।कार्यक्रम में जयप्रकाश भारद्वाज, धनंजय वर्मा,मनोज कुमार,गौतम कुमार, पंकज ,नितिन आदि उपस्थित रहे।  विद्यालय परिवार से आभा,हेमलता शर्मा,मंजुला,सीमा , विशाल ,प्रियंका ,शिवा आदि उपस्थित रहे। 

Back to top button