सरूरपुर थाने के लॉकअप से भाग गया हत्या के मामले में पकड़ा गया आरोपी

  • पुलिस छानती रही जंगलों की खाक, कप्तान ने दिए जांच के आदेश
    मेरठ। सरूरपुर थाने में गुरुवार को उस वक्त हड़कंप मच गया, जब आकाश हत्याकांड में पूछताछ के लिए हिरासत में लाया गया बंदी कांस्टेबल को धक्का देकर लॉकअप से भाग निकला। आरोपी के भागने के बाद से पुलिस दिनभर जंगलों में उसकी तलाश करती रही, लेकिन शाम तक उसका कोई सुराग नहीं मिला। थाना पुलिस की लापरवाही के कारण कप्तान नाराज हैं। उन्होंने पूरे मामले की जांच एसपी देहात को सौंप दी है। उनके कहने पर ही एएसपी आयुष विक्रम ने घण्टेभर थाना पुलिस से पूछताछ की। उम्मीद जताई जा रही है कि मामले में लापरवाह रहे पुलिसकर्मियों को कप्तान की नाराजगी झेलनी पड़ सकती है।  

गौरतलब है कि सरूरपुर-करनावल सम्पर्क मार्ग पर बीती 9 मई को सरूरपुर गांव निवासी आकाश पुत्र सुरेंद्र का शव खेत मे आम के पेड़ से लटका मिला था। पोस्टमार्टम में युवक की मौत फांसी लगने से होने का दावा किया गया था। पुलिस भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर हत्या को आत्महत्या मानकर जांच कर रही थी। परिजनों ने पुलिस की कार्यवाही से नाखुश होकर एसएसपी प्रभाकर चौधरी से हत्याकांड के खुलासे की गुहार लगाई थी। एसएसपी ने परिजनों की मांग पर एएसपी आयुष विक्रम सिंह को मौके पर भेजकर घटनास्थल का मौका मुआयना कराया था और घटना की रिपोर्ट मांगी थी। शव मिलने के दौरान युवक के मुंह मे मिट्टी भरी हुई थी। कपड़े भी मिट्टी में सने थे, जबकि जिस चद्दर से युवक का शव लटका था उसपर मिट्टी का कोई दाग नहीं था। जिसके चलते युवक की हत्या होने का शक गहरा गया था। पुलिस अब तक सरूरपुर से करीब आधा दर्जन युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर चुकी है। लेकिन कोई सफलता नहीं मिल सकी थी।
सर्विलांस से मिला था सुराग
आकाश हत्याकांड में पुलिस को सर्विलांस के माध्यम से कोई बड़ा सुराग मिला था। इसी के चलते पुलिस ने बिनोली के गहलौता गांव से अरविंद नामक आरोपी को बुधवार को हिरासत में लिया था। सूत्रों की मानें तो देर शाम खुद एसपी देहात केशव कुमार ने भी थाने पहुंचकर आरोपी से पूछताछ की थी।
पूछताछ से पहले हुआ फरार
गुरुवार को आरोपी से सर्विलांस टीम को पूछताछ करनी थी, लेकिन उससे पहले ही वह सुरक्षा में लगे सिपाहियों को गच्चा देकर भागने में कामयाब हो गया। आरोपी अरविंद की तलाश में थाना पुलिस दिनभर डाहर गांव के जंगलों में कोम्बिंग करती रही, लेकिन वह पुलिस की पहुंच से दूर जा चुका था।
एसपी देहात करेंगे जांच
इस पूरे प्रकरण में पुलिस की लापरवाही सामने आने पर कप्तान ने सख्त तेवर अपनाते हुए मामले की जांच एसपी देहात को सौंप दी है। उम्मीद जताई जा रही है कि जांच पूरी होने पर लापरवाह पुलिस कर्मियों पर गाज गिर सकती है।

Back to top button