बिजली की अघोषित कटौती से उपभोग्ताओं का बुरा हाल

बिल चुकाते चुकाते परेशान भी है लोग जे ई को फोन करो तो रहता है विजी शिकायत किससे करे उपभोग्ता

क़ुतुब अंसारी / ताजुल हुसैन

कैसरगंज ( बहराइच ) बिजली की अघोषित कटौती से विद्युत उपभोक्ता परेशान परंतु विभाग नहीं दे रहा है कोई ध्यान समस्याओं का समाधान होना तो दूर की बात है जैसे-जैसे गर्मी बढ़ती जा रही है बिजली की समस्या भी बढ़ती जा रही है लोकसभा चुनाव से पहले बिजली जाने का नाम नहीं ले रही थी और अब आने का नाम नहीं ले रही है बिजली का हाल यह है कभी दिन में नहीं आती है तो कभी रात में नहीं आती है

कभी दोपहर में नहीं आती है तो कभी शाम को नहीं आती है कभी-कभी तो बिल्कुल आती ही नहीं है बिजली मिले या ना मिले लेकिन जनता को बिजली का बिल अवश्य भरना होता है विद्युत विभाग कैसरगंज में तैनात जे.ई. का सीयूजी नंबर हर समय व्यस्त रहता है जब भी मिलाओ नेटवर्क क्षेत्र से बाहर ही बताता है उनके मोबाइल का फोन मिलाने पर ऐसा प्रतीत होता है कि यह कैसरगंज पावर हाउस के जे.ई. नहीं बल्कि किसी जंगल विभाग में कार्यरत हैं जहां पर मोबाइल का नेटवर्क ही नहीं रहता है

वैसे ही यह कैसरगंज पावर हाउस पर बहुत कम ही देखे जाते हैं इनका रैन बसेरा सदैव बहराइच ही रहता है ऐसे जे.ई. के कार्यो को देखते हुए यदि सरकार इनका वेतन रोंक दे तब भी इनकी आदत में कोई सुधार आने वाला नहीं है क्षेत्र में जर्जर तार ढीले पड़े हैं पोल टूटे हुए हैं जरूरत के ट्रांसफार्मर अस्त-व्यस्त हैं उपभोक्ता त्रस्त हैं जे.ई. मस्त हैं नए ट्रांसफार्मर लगे हुए धूप में सूख रहे हैं उनको लाइन से भी नहीं जोड़ा जा रहा है और ना ही उन्हें उचित जगह पर स्थापित किया जा रहा है जबकि उपभोक्ता लो वोल्टेज से परेशान हैं गांव के मठाधीशो द्वारा ट्रांसफार्मर सही करवाने के नाम पर घर पीछे सौ- पचास रुपये वसूले जाते हैं इन्हीं पैसों से जब जे.ई. साहब की जेब गर्म हो जाती है तभी ट्रांसफार्मर में भी गर्मी आती है।

Back to top button
E-Paper