राष्ट्रीय शैक्षिक आंकलन हेतु 10 दिवसीय वेबिनार की हुई शुरुआत..

कोरोना काल मे प्रदेश व जिले के शिक्षाविद-शिक्षक व्यापक चर्चा-परिचर्चा हेतु आये एक मंच पर।

◆ जिले के डेढ़ सौ से अधिक शिक्षक कर रहे प्रतिभाग

◆ उद्घाटन में SIET निदेशक रही मौजूद

◆ ऑनलाइन वेबिनार में शैक्षिक आंकलन के तरीकों, कमियों, व सुधार पर होगी परिचर्चा

क़ुतुब अन्सारी
बहराइच l मंगलवार को राज्य शैक्षिक तकनीकी संस्थान (SIET) तथा एजुलीडर्स यूपी के संयुक्त प्रयासों से बहराइच जनपद के परिषदीय विद्यालयों हेतु शैक्षिक आंकलन आधारित दस दिवसीय ऑनलाइन वेबिनार की शुरुआत हुई। उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुई एसआईईटी निदेशक ललिता प्रदीप ने कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि परिवर्तन हमारे लिए चुनौतियाँ व अवसर दोनों साथ लाता है।

इस लिहाज से कोविड-19 के कारण देशभर में चल रहे लॉकडाउन को शिक्षको को एक अवसर के रूप में लेना चाहिए। कार्यशाला में एजुलीडर्स टीम के संयोजक श्री सर्वेष्ट मिश्रा ने दस दिनों की विस्तृत रूपरेखा से अवगत कराते हुए बताया कि प्रत्येक दिवस शैक्षिक आंकलन आधारित एक विषय पर विभिन्न शिक्षाविदों द्वारा विशेष सत्र लिया जाएगा।

बहराइच जनपद में इस वेबिनार की संयोजक शिक्षिका आँचल श्रीवास्तव ने बताया कि उक्त कार्यशाला में सेवानिवृत्त डिप्टी डायरेक्टर ऑफ एजुकेशन उत्तराखंड सुरेश सोनी, दिल्ली यूनिवर्सिटी के राजेन्द्र प्रसाद, बरेली से डॉ० अवनीश यादव, आगरा से विवेक त्रिपाठी समेत अन्य शिक्षाविद सेशन लेंगे। वेबिनार कार्यशाला के मुख्य संरक्षक डायट प्राचार्य उदयराज ने शिक्षको के लिए इस कार्यशाला को आवश्यक बताते हुए इसके आयोजन की जिम्मेदारी उठा रहे आयोजको को उनके इस अनूठे प्रयास के लिए सराहा, साथ ही आशा जताई कि इस तरह के आयोजन आगे भी जारी रहेंगे।

वही जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी दिनेश कुमार यादव ने अनुसार हमारे शिक्षक सदैव ऐसे नए कार्यक्रमो में जुड़ने के लिए उत्साहित रहते हैं। आज से शुरू हुए एजुलीडर्स टीम यूपी के वेबिनार में खण्ड शिक्षाधिकारियों सहित बेसिक शिक्षा विभाग बहराइच के विभिन्न ब्लॉकों के 150 शिक्षक प्रतिभाग कर रहे हैं।

Back to top button
E-Paper