उत्तराखंड में 24 घंटे में 73 नए केस, अब सभी जिले ऑरेंज जोन में

देहरादून । उत्तराखंड लौटे प्रवासियों ने पिछले 10 दिनों में जिस तेजी से कोरोना का संक्रमण फैलाया, उसका नतीजा यह हुआ कि आज राज्य के सभी 13 जिले ऑरेंज जोन में आ गए। इसलिए राज्य में अब सभी गतिविधियां तद्नुरूप ही संचालित की जाएंगी। राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण के कुल 73 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 317 हो गई। इस दौरान एक मरीज की मौत हो गई और अल्मोड़ा जिले के 2 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद आज अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। राज्य में अबतक कुल 58 मरीज ठीक हो चुके हैं। आज जो पॉजिटिव रिपोर्टें आई हैं, उनमें से दो मरीज दिल्ली और दो उत्तर प्रदेश जा चुके हैं। राज्य के अपर सचिव (स्वास्थ्य) युगल किशोर पंत ने पुष्टि की है।

राज्य के कोविड 19 कंट्रोल रूम द्वारा शाम 7.30 बजे जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार शाम को कोरोना टेस्ट की 19 जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई हैं। इनमें ऊधम सिंह नगर के 8 मरीज संक्रमित पाए गए हैं, जो हाल ही में मुंबई से उत्तराखंड आए हैं। देहरादून से 4 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है, जिनमें से 3 लोग मुंबई से हाल ही में आए थे, जबकि एक व्यक्ति स्थानीय है, जो कोरोना मरीज का तीमारदार है। चमोली जिले के 5 लोगों की रिपोर्ट में कोरोना संक्रमण पाया गया है, जिनमें एक ही परिवार के 4 लोग हैं और इनकी ट्रैवेल हिस्ट्री दिल्ली की है जबकि एक व्यक्ति पहले से संक्रमित मरीज के सम्पर्क में आने से कोरोना पॉजिटिव हुआ है। इसके अलावा बागेश्वर जिले से 2 मरीजो की रिपोर्ट में कोरोना संक्रमण पाया गया है, जो क्रमशः दिल्ली और अहमदाबाद से हाल ही में उत्तराखंड आए हैं।

इससे पहले आज दोपहर में जारी हेल्थ बुलेटिन में जानकारी दी गई थी कि बीती आधी रात के बाद कोरोना संक्रमण की 54 रिपोर्टें पॉजिटिव आई हैं, जिनमें देहरादून के कुल 8 सैम्पल हैं, जिनमें एक मरीज की ट्रैवेल हिस्ट्री नोएडा की है और 7 अन्य भी राज्य के बाहर के हैं। पौड़ी के एक मरीज का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है, जो मुंबई से हाल ही में उत्तराखंड आया है। चमोली जिले के 3 केस पॉजिटिव आए हैं, जो हाल ही में पॉजिटिव मिले एक मरीज के ही परिवार के सदस्य हैं। इन सभी की ट्रैवेल हिस्ट्री दिल्ली की है। टिहरी में 3 मरीजों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, जो हाल ही में मुंबई से आए हैं। सर्वाधिक 32 मामले नैनीताल जिले से रिपोर्ट हुए हैं, जो कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव आए हैं। ये सभी लोग हाल ही में मुंबई से विशेष ट्रेन से हरिद्वार आए थे, जहां से बस के माध्यम से हल्द्वानी पहुंचे थे। इसी तरह मुंबई की ट्रैवेल हिस्ट्री वाले कोरोना पॉजिटिव एक-एक मरीज क्रमशः ऊधम सिंह नगर और चम्पावत जिलों में भी मिले हैं जबकि अल्मोड़ा जिले में कुल 5 मरीज पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 3 की ट्रैवेल हिस्ट्री गुरुग्राम और 2 की मुंबई की है। एम्स (ऋषिकेश) में आज दिल्ली के एक टैक्सी ड्राइवर का सैम्पल कोरोना जांच में पॉजिटिव पाया गया लेकिन वह यहां से दिल्ली लौट चुका है, जहां उसे एकांतवास में रखा गया है।

उधर, दून हॉस्पिटल में भर्ती एक कोरोना संक्रमित महिला मरीज की मौत हो गई। दून मेडिकल अस्पताल के डिप्टी एमएस और कोरोना के स्टेट कोऑर्डिनेटर डॉ. एनएस खत्री ने बताया कि यूपी के शामली के अरशद चौक निवासी 38 वर्षीय महिला को गत 20 मई को पटेलनगर स्थित एक अस्पताल से रेफर कर दून अस्पताल भर्ती कराया गया था। वह 7 माह की गर्भवती थी। उसको दस दिन से खांसी की भी दिक्कत थी और लगातार दौरे पड़ रहे थे। आईसीयू में उपचार के दौरान शनिवार शाम उसकी मौत हो गई थी। महिला का कोरोना जांच के लिए सैंपल पहले ही भिजवा दिया गया था। जिसकी रिपोर्ट आज पॉजिटिव आई है। उन्होंने बताया कि महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अब महिला के पति और भाई को भी अस्पताल में भर्ती किया गया है। दोनों के सैंपल भी कोरोना की जांच के लिए भेज दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि इससे पहले एम्स (ऋषिकेश) में कोरोना संक्रमित दो मरीजों की मौत हो चुकी है लेकिन डॉक्टरों ने उनकी मौत का कारण ब्रेन हैमरेज और कैंसर बताया था, जिससे वह पहले से पीड़ित थे।

पंत ने बताया कि फिलहाल राज्य में कोरोना के जो मरीज अभी विभिन्न अस्पतालों में उपचाररत हैं, उनमें सर्वाधिक 107 मरीज नैनीताल जिले के हैं। अन्य जिलों में देहरादून के 43, ऊधम सिंह नगर 36, अल्मोड़ा 9, बागेश्वर 8, चमोली 9, चम्पावत 8, हरिद्वार 7, पौड़ी 6, पिथौरागढ़ 2, रुद्रप्रयाग 3, टिहरी 9 और उत्तरकाशी के 9 कोरोना संक्रमित मरीज उपचाराधीन हैं। राज्य में आज 943 सैम्पल की जांच रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई हैं। हालांकि आज 1120 सैम्पल जांच के लिए भी भेजे गए हैं। अब तक राज्य में 16 हजार 640 सैम्पल की जांच रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है जबकि 3023 सैम्पल की जांच प्रक्रिया जारी है। राज्य में 15 हजार 491 लोग सुविधा केंद्रों में एकांतवास में रखे गए हैं। राज्य में कोरोना मरीजों के ठीक होने की औसत दर 18.86 प्रतिशत है।

उल्लेखनीय है कि अब जब राज्य के सभी 13 जिले आज ऑरेंज जोन में आ गए हैं, तो अब इन जिलों में सभी गतिविधियां ऑरेंज जोन के अनुसार ही चलेंगी। शनिवार तक राज्य के 7 जिले ग्रीन जोन में थे लेकिन आज वे भी ऑरेंज जोन में आ गए। मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने देर शाम जारी एक आदेश में सभी सम्बन्धित अधिकारियों से नए वर्गीकृत जोन के हिसाब से गतिविधियां संचालित किया जाना सुनिश्चित करने को कहा है।

Back to top button
E-Paper