आटो रिक्सा पर नेपाल से बरामद हुई करोणो रुपयो की अफीम

तीन पुरुष व एक महिला तस्कर गिरफ्तार आटो रिक्सा चालक बोला इस काम के लिए प्रतिदिन मिलते थे पंद्रह हजार
क़ुतुब अंसारी / मनमोहन शुक्ला
रूपईडीहा (बहराइच)  जिला पुलिस कार्यालय बांके नेपालगंज पुलिस व लागूऔषधी नियन्त्रण ब्यूरो नेपालगंज की संयुक्त टीम ने बांके जिले के पुरैना गांव के निकट एक आटो रिक्शा  से भारी मात्रा मे अफीम बरामद किया है। अफीम के साथ 4 तस्करो को गिरफ्तार किया है। जिसमे एक महिला तस्कर भी सामिल है। आफिम की इतनी बड़ी बरामदगी बांके जिले मे पहली बार हुई है।
जिला पुलिस कार्यालय बांके नेपालगंज ने कल एक पत्रकार सम्मेलन बुलाकर बरामद  18किलो 500 ग्राम अफीम व इसमे सामिल तस्करो को सार्वजनिक किया गया। पत्रकार सम्मेलन मे एस पी बांके अरूण पौडेल ने बताया कि मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि नेपालगंज वार्ड नंबर 22 पुरैना गांव से एक आटो रिक्शा द्धारा भारी मात्रा मे अफीम नेपालगंज आ रही है। इसी सूचना पर एस पी श्री पौडेल ने जिला बांके कार्यालय से एक पुलिस व लागूऔषधी नियन्त्रण ब्यूरो नेपालगंज की संयुक्त टीम को मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान पर   भेजा। जहा संयुक्त टीम को पुरैना गांव की ओर से एक आटो रिक्शा आता दिखाई दिया। जिसे रोक कर जब तलाशी ली गई तो  उक्त आटो नम्बर भे 1 ह 1395 से 18 किलो 500 ग्राम अफीम बरामद हुई।
इसके साथ ही जाजरकोट जिला के नलगाढ के रहने वाले 3 पुरूष तस्करो व पूर्वी रूकुम जिले की रहने वाली एक महिला तस्कर  को गिरफ्तार कर लिया। यह भारी मात्रा आफिस की खेप नेपाली तस्कर भारत की ओर लेकर जाने की फिराक मे थे यह प्रारंभिक पूछताछ से पता चला है। इस सम्बध मे लागूऔषधी नियन्त्रण ब्यूरो नेपालगंज के प्रमुख वीर बहादुर थापा ने पत्रकारो को बताया कि तस्करो से प्रारम्भिक पूछताछ से पता चला है कि यह भारी मात्रा आफिम जाजरकोट जिले से लायी गयी है।
पकड़े गए आफीम तस्करो की पहचान पृथ्वी बहादुर विक, बीर बहादुर विक, राजेन्द्र बहादुर विक निवासी गण त्रिवेणी नलगाढ नगरपालिका जिला जाजरकोट व महिला तस्कर शर्मीला मगर निवासिनी उत्तरगंगा पूर्वी रूकुम जिले के रूप मे हुई है। बांके के एसपी पौडेल ने यह भी बताया कि आटो चालक को भी जांच के लिए हिरासत मे लिया गया है। पूछताछ करने पर आटो चालक ने बताया है कि प्रति दिन  15 हजार रुपए पाने की शर्त पर यह आफिम नेपालगंज पहुचाने की जिम्मेदारी लिया था। उन्होंने बताया कि इस सम्बध मे अभी अनुसंधान किया जा रहा है
Back to top button
E-Paper