शुरू हो गया सूतक, केदारनाथ-बदरीनाथ के कपाट बंद, शनिवार सुबह खुलेंगे

सदी के सबसे बड़े चंद्र ग्रहण का सूतक लग गया है. इसके चलते दोपहर 1 बजकर 11 मिनट पर बदरीनाथ धाम कपाट कल सुबह तक के लिए बंद कर दिए गए हैं. शुक्रवार को दोपहर भोग के बाद सायंकालीन पूजा आरती की गई, जिसके बाद 1 बजकर 11 मिनट पर बदरीनाथ धाम के कपाट बंद हो गए हैं.

Image result for kedarnath and badrinath

श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के पीआरओ डा. हरीश गौड ने यह जानकारी देते हुए बताया था कि चंद्र ग्रहण के सूतक काल से पहले 27 जुलाई को श्री बदरीनाथ मंदिर के कपाट दिन में 12 बजकर 30 मिनट एवं श्री केदारनाथ मंदिर के कपाट दिन में 2 बजकर 54 मिनट पर बंद कर दिए जाएंगे.

Related image

दूसरे दिन सुबह ग्रहण समाप्त होने के बाद नियमित पूजा अर्चना के लिए उन्हें फिर से खोल दिया जाएगा. चंद्र ग्रहण का आरंभ रात्रि 11 बजकर 54 मिनट पर हो रहा है, ग्रहण काल 28 जुलाई प्रात: 3 बजकर 49 मिनट तक रहेगा, 28 जुलाई को श्री बदरीनाथ मंदिर एवं श्री केदारनाथ मंदिर प्रात: काल अपने निर्धारित समय पर दर्शनार्थ खुलेंगे.

 

चंद्रग्रहण Image result for kedarnath and badrinathके कारण ही देशभर के कई बड़े मंदिर दोपहर बाद ही बंद रहेंगे. हरिद्वार, वाराणसी और इलाहाबाद में हर शाम होने वाली गंगा आरती भी दोपहर को होगी. चंद्रग्रहण के कारण ही दोपहर एक बजे गंगा आरती का विशेष आयोजन किया जाएगा. इसके अलावा देश के कई बड़े मंदिरों में दोपहर दो बजे के बाद दर्शन नहीं हो पाएंगे.

Back to top button
E-Paper