ऑनलाइन भुगतान के दौरान सावधानी बचा सकती है बढ़ी धोखाधड़ी से

 केवल विश्वसनीय एप से ही भुगतान करें

नई दिल्ली। समय के साथ इंटरनेट बैंकिंग हमारी दिनचर्या का हिस्सा बनते जा है। कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं है जो इंटरनेट बैकिंग के जरिए पैसे का लेन-देन न करता हो। चाहे बिलों का भुगतान करने के लिए हो, ऑनलाइन शॉपिंग या डॉक्टर के क्लिनिक में अपॉइंटमेंट बुक करने के लिए हो। सभी के लिए व इंटरनेट का सहारा लेता है। कोरोना महामारी के बाद से पिछले 15 महीनों में ऑनलाइन ट्राजेक्शन कई गुना बढ़ा है. लेकिन, इस बीच लोग कई बार वह धोखाधड़ी का शिकार हो जाता है। ऐसे में इंटरनेट बैंकिंग के दौरान थोड़ी सी सावधानी बरते तो धोखाधड़ी से बचा जा सकता है।   

 डिजिटल लेनदेन करते समय थोड़ी सी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कुछ संकेत रेजऱपे की ओर से दिए जा रहे है. जिन्हें अपना कर धोखाधड़ी से बचा जा सकता है. इन सावधानी को हर समय ध्यान में रखना चाहिए- 

कभी भी अपना पासवर्ड या ओटीपी किसी को न बताएं। यह धोखाधड़ी करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सबसे आम बात है।  हमेशा याद रखें कि ओटीपी और पासवर्ड पूरी तरह से परर्सनल हैं और यहां तक कि एक बैंक अधिकारी को भी फोन के माध्यम से इस जानकारी को मांगने की अनुमति नहीं है। 

ऑनलाइन बैकिंग के लिए पब्लिक वाईफाई नेटवर्क या कंप्यूटर का उपयोग करने से बचें। इससे साइबर जालसाजों के जाल में फंस सकते है जिससे सुरक्षा के साथ डेटा चोरी की आंशका अधिक बढ़ जाती है। अपने फोन व लेपटॉप पर केवल सत्यापित, विश्वसनीय और वैध ऐप को ही डाउनलोड करें।  यह सुनिश्चित हो सके कि आपका पैसा और डेटा सुरक्षित है। यदि किसी संदेहयुक्त मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से लेनदेन करने से बचें।  अपने फोन पर परर्सनल जानकारी देने से बचे. 

हमेशा सुरक्षित वेबसाइटों के जरिए ही ही भुगतान करें। भुगतान से पहले 

सुनिश्चित करें कि यह वेबसाइट https:// से शुरू होता है न कि http:// से और इससे पहले एक पैडलॉक सिम्बल होना चाहिए है। इन दोनों कंडिशन में सेफ कनेक्शन का साइन है कि वेबसाइट एन्क्रिप्टेड है, और जो एक एसएसएल/टीएलएस सर्टिफाइड है।

खरीददारी करते समय भी विश्वसनीय वेबसाइटों से ही खरीदारी करें। ऑनलाइन स्टोर से खरीददारी करने से बचें. इसके अलावा अगर आप खरीददारी करते भी है तो ऑनलाइन भुगतान न करें. कैश ऑन डिलीवरी का विकल्प चुने. इसका कारण है कि  किसी भी संवेदनशील डेटा धोखाधड़ी को रोकने के लिए छोटे व्यापारियों के पास आवश्यक सुरक्षा जांच नहीं होती है। इसके अलावा, यह भी जांच करना जरुरी हैं कि सबंधित साइट भुगतान के दौरान सुरक्षित गेटवे का उपयोग करती है जो पूरी तरह से सुरक्षित है और सभी नवीनतम सुरक्षा मानदंडों के अनुरूप है. 

फ्रॉड  ईमेल, एसएमएस या कॉल को कभी भी न खोलें और न ही उनका जवाब दें। हालांकि यह अंतर करना मुश्किल होता है कि अधिकांश धोखाधड़ी वाले ईमेल और टेक्स्ट के जरिए अवास्तविक व्यापार और पुरस्कारों को पेजेन्ट करते है.  कुछ ईमेल जानकारी प्राप्त करने के तरीके के बात वेबसाइटों का क्लोन भी बना लेते हैं।

Back to top button
E-Paper