रोहतक में कोरोना ब्लास्ट : विधायक घनश्याम सर्राफ के परिवार के 9 सदस्य और 4 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

भिवानी. शनिवार शाम को रोहतक पीजीआई से शहर के लिए बुरी खबर आई। विधायक घनश्याम सर्राफ के परिवार के 9 सदस्यों व 4 कर्मचारियों समेत 15 लोग कोरोना संक्रमित मिलने से स्वास्थ्य विभाग और कोविड 19 टीम और अलर्ट हो गई है। विधायक के परिवार के संक्रमित सदस्यों को रोहतक रोड स्थित एक प्राइवेट अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में, जबकि बामला व सिरसा घोघड़ा के संक्रमितों को सिविल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है।

शनिवार शाम को स्वास्थ्य विभाग को विधायक घनश्याम सर्राफ व परिवार के 17 लोगों की कोरोना से संबंधित रिपोर्ट मिली। जिसमें विधायक की पत्नी, एक बेटी, पुत्र, पुत्रवधु, एक साल की पौत्री, भांजा, भांजा की पत्नी, उसके दो बच्चे तथा विधायक की कोठी पर काम करने वाले चार नौकर भी कोरोना संक्रमित पाए गए है। जबकि विधायक घनश्याम सर्राफ, उसकी एक बेटी व ड्राइवर की रिपोर्ट निगेटिव मिली है। विधायक के पीए सत्यनारायण ने दो दिन पहले स्वास्थ्य खराब होने पर सिविल अस्पताल के फ्लू कॉर्नर में पहुंचकर मेडिकल जांच करवाई थी।

इस दौरान पीए का कोरोना से संबंधित सैंपल लेकर जांच के लिए रोहतक पीजीआई भेजा गया था। जिसकी शुक्रवार को रिपोर्ट पॉजिटिव मिली थी। इस पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने विधायक के आवास पर पहुंचकर कोठी में काम करने वाले नौकर व ड्राइवर के अलावा विधायक व परिवार के सदस्यों के कोरोना से संबंधित सैंपल लेकर जांच के लिए पीजीआई भेजे थे। शनिवार शाम को रिपोर्ट आई। जिसमें कर्मचारी व परिवार के सदस्यों समेत 13 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई।

पता लगा रहे ट्रेवल हिस्ट्री

विधायक परिवार के कोरोना संक्रमित सदस्यों को एक निजी अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर उनका उपचार शुरू कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग सभी 13 लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री का पता लगाने का प्रयास कर रहा हैं। विधायक व पीए एक सप्ताह पहले चंडीगढ़ गया था इसके अलावा पीए अपनी पत्नी के इलाज के लिए हिसार स्थित जिंदल अस्पताल में भी गया था। विधायक की रिपोर्ट निगेटिव आने से स्वास्थ्य विभाग भी यह पता नहीं लगा पा रहा हैं कि विधायक के परिवार के सदस्य किस तरह से कोरोना वायरस के संपर्क में आए। इसके चलते विभाग के लिए यह भी चुनौती पूर्ण होगा कि 13 संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में अभी तक कितने लोग आए हैं।

29 मई को लिए थे सैंपल

विधायक परिवार के कोरोना संक्रमित सदस्यों को एक निजी अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर उनका उपचार शुरू कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग सभी 13 लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री का पता लगाने का प्रयास कर रहा हैं। विधायक व पीए एक सप्ताह पहले चंडीगढ़ गया था इसके अलावा पीए अपनी पत्नी के इलाज के लिए हिसार स्थित जिंदल अस्पताल में भी गया था। विधायक की रिपोर्ट निगेटिव आने से स्वास्थ्य विभाग भी यह पता नहीं लगा पा रहा हैं कि विधायक के परिवार के सदस्य किस तरह से कोरोना वायरस के संपर्क में आए। इसके चलते विभाग के लिए यह भी चुनौती पूर्ण होगा कि 13 संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में अभी तक कितने लोग आए हैं।

बामला के संक्रमित युवक का चाचा भी पाॅजिटिव

आज मिले ग्रामीण क्षेत्र के 2 पॉजिटिव में एक बामला का और दूसरा सिरसा घोघड़ा का है। तीन दिन पहले बामला निवासी जो तीन दिन पहले कोरोना पॉजिटिव मिला था, आज उसका चाचा भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। इसके अतिरिक्त सिरसा घोघड़ा निवासी जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है वह एक टैक्सी ड्राइवर है। कोविड-19 टीम के नोडल अधिकारी डॉ. राजेश ने बताया कि सिरसा घोघड़ा व बामला के पॉजिटिव को सामान्य अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाया गया है व उनकी ट्रेवल हिस्ट्री के बारे जानकारी ली जा रही है। बाग कोठी को सील कर दिया गया है।

Back to top button
E-Paper