यूपी में कोरोना : सुबह 22 नए मरीजों की पुष्टि, यहाँ देखे ताजा रिपोर्ट

यूपी में कोरोना वायरस की चेन ब्रेक नहीं हो रही है. मरीजों के ग्राफ में जारी उठापटक के बीच तीसरी लहर का खतरा मंडरा रहा है. उत्तर प्रदेश में गुरुवार की सुबह 22 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई. प्रदेश में एक बार फिर सक्रिय मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है.

लखनऊ : यूपी में कोरोना वायरस की चेन ब्रेक नहीं हो रही है. मरीजों के ग्राफ में जारी उठापटक तीसरी लहर का खतरा जता रही है. गुरुवार सुबह 22 नए मरीज मिले हैं. वहीं फाइनल रिपोर्ट शाम को आएगी. उधर, अब सक्रिय मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है.

गुरुवार को सवा दो लाख से अधिक टेस्ट किए गए. इस दौरान 61 मरीजों में वायरस की पुष्टि हुई. वहीं दो मरीजों की मौत हौ गई. इसके अलावा 45 लोग वायरस को हराने में सफल रहे. यूपी में देश में सर्वाधिक 6 करोड़ 64 लाख से अधिक कोरोना टेस्ट किए गए. इस दौरान केजीएमयू, बीएचयू, सीडीआरआई की लैब में जीन सिक्वेंसिंग टेस्ट किए जा रहे. इसमें अब तक सिर्फ दो डेल्टा प्लस के केस रहे. वहीं 90 फीसद से ज्यादा डेल्टा वैरिएंट ही पाया गया. 

मंगलवार को 673 एक्टिव केस थे. बुधवार को बढ़कर 686 एक्टिव केस हो गए हैं. वहीं अब 16 जनपद कोरोना मुक्त हैं. यह जनपद पहले अलीगढ़, बदायूं, बस्ती, बहराइच, एटा, फतेहपुर, हमीरपुर, हाथरस, कासगंज, महोबा, श्रावस्ती, अमरोहा, कौशाम्बी, फर्रुखाबाद और प्रतागढ़ रहे. वहीं अब सीतापुर में भी मरीज शून्य रह गए. वहीं मंगलवार को लखनऊ में केरल से लौटे चार लोग कोरोना पॉजिटिव निकले. इनके संपर्क में आए 122 लोगों के सैंपल लिए गए, जुनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है.

जिन राज्यों में साप्ताहिक संक्रमण दर 3 फीसद तक है, वहां से आने वाले लोगों की आरटीपीसीआर रिपोर्ट अनिवार्य है. इसके अलावा यदि वैक्सीन की दोनों डोज़ का प्रमाणपत्र है, तो जांच की जरूरत नहीं है. मगर, बाहर से आने पर सात दिन क्वारंटीन की सलाह दी गयी है. इसमें मेघालय, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा, महाराष्ट्र, गोवा, उड़ीसा, आंध्र प्रदेश, मिजोरम, केरल, आदि है. यूपी में सोमवार को 45 जनपदों में कोरोना का एक भी केस नहीं पाया गया था. स्वास्थ विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट में मरीजों की संख्या शून्य रही. 29 जनपदों में सिंगल डिजिट मरीज रहे. वहीं डबल डिजिट में सर्वाधिक 17 मरीज पाए गए.

मरीजों की कुल पॉजिटीविटी रेट 3 फीसद घटकर 2.61 रह गई है. इसके अलावा राज्य में पॉजिटीविटी रेट 0.04 से घटकर 0.01 फीसद रह गयी है. वहीं मृत्युदर अभी 1 फीसद पर बनी हुई है. जून में प्रदेश में संक्रमण दर का औसत 1 फीसद रहा, जबकि जुलाई में 0.3 फीसद पॉजिटीविटी रेट की गई. 30 अप्रैल को यूपी में सर्वाधिक एक्टिव केस 3 लाख 10 हजार 783 रहे. अब यह संख्या 686 रह गयी. वहीं रिकवरी रेट मार्च में जहां 98.2 फीसद थी. अप्रैल में घटकर 76 फीसद तक पहुंच गई. वर्तमान में फिर रिकवरी रेट 98.6 फीसद हो गई है. वहीं 2020 से अब तक कोरोना की कुल संक्रमण दर 2.68 फीसद रह गयी.

Back to top button
E-Paper