Coronavirus संकट के बीच Lockdown 5.0 को लेकर बढ़ी चर्चा, क्या 31 मई के बाद भी रहेगा जारी

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) लगातार अपने पैर पसार रहा है। देश में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 1 लाख 38 हजार के पार पहुंच चुकी है। वहीं अब तक इस घातक वायरस की वजह से 4000 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। यही वजह है कि केंद्र ( Central Govt ) और राज्य सरकारें लॉकडाउन ( Lockdown ) को चरणबद्ध तरीके से लगातार आगे बढ़ा रही हैं। फिलहाल देश लॉकडाउन के चौथे चरण से गुजर रहा है। जो 31 मई तक चलेगा। ऐसे में कई लोगों के मन में सवाल है कि क्या ये लॉकडाउन का अंतिम चरण होगा? या फिर एक बार फिर लॉकडाउन की अवधि आगे बढ़ेगी।

दरअसल मिल रहे संकेतों से तो ऐसा लग रहा है कि, देश में 31 मई के बाद भी लॉकडाउन जारी रहेगा। लॉकडाउन का 5वां चरण 1 जून से लग सकता है। इसका रंग-रूप क्या होगा ये फिलहाल कह पाना मुश्किल है। लेकिन वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ( WHO ) के निर्देशों से ऐसा ही लगता है कि देश में लॉकडाउन आगे बढ़ाया जाएगा। हालांकि कुछ राज्यों ने तो अभी से कह दिया है कि वो लॉकडाउन की अवधि बढ़ाएंगे। 

केन्द्र सरकार ने अभी लॉकडाउन की तारीख आगे बढ़ाने या इसे समाप्त करने के बारे में किसी भी तरह का निर्णय नहीं लिया है। लेकिन देश में कोरोना संक्रमित लोगों की बढ़ती संख्या और विश्व स्वास्थ्य संगठन की सलाह के बाद तो यही लग रहा है कि अभी सरकार लॉकडाउन को 31 मई से आगे भी जारी रखेगी।

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी चिंता व्यक्त की है। इसी कारण उसने देश के सात राज्यों में अभी लॉकडाउन में छूट न देने की सलाह दी है।

इन 7 राज्यों में छूट ना देने की सलाह
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने देश के महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, तेलंगाना, चंडीगढ़, तमिलनाडु और बिहार को लेकर चेतावनी जारी की है। WHO ने देश के इन सात राज्यों में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए लॉकडाउन का प्रतिबंध जारी रखने की जरुरत बताई है। 

महाराष्ट्र पहले बना चुका मन
महाराष्ट्र इस वक्त देश में सबसे ज्यादा कोरोना की मार झेल रहा है। यहां पर कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 47 हजार के पार पहुंच चुकी है। यही वजह है कि महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने 31 मई के बाद लॉकडाउन जारी रखने के संकेत दिए हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने एक बयान में कहा ना ही लॉकडाउन अचानक लगाना ठीक फैसला था और ना इसे अचानक हटाना सही होगा।

उन्होंने ये भी कहा महाराष्ट्र में कोरोना को लेकर अगले 15 दिन काफी महत्वपूर्ण हैं। ऐसे में उनके बयान से ये साफ जाहिर होता है कि वो फिलहाल लॉकडाउन के खत्म करने के मूड में नहीं है।

मध्य प्रदेश में भी कोरोना का असर
महाराष्ट्र की तरह मध्य प्रदेश में भी कोरोना का असर फिलहाल कम होता नहीं दिख रहा। खास तौर पर इंदौर, भोपाल जैसे बड़े शहरों में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। ऐसे में यहां भी शिवराज सरकार के पास जोनवार लॉकडाउन आगे बढ़ाना ही एक मात्र विकल्प है।

Back to top button
E-Paper