मोदी सरकार के तख्तापलट के लिए रची गई थी दिल्ली दंगों की साजिश: बड़ा खुलासा !

दिल्ली में हुए हिंदू विरोधी दंगों से पूरा देश दहल उठा था. इन दंगों में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी. कंटरपंथी मुस्लिम और उग्र वामपंथियों ने मिलकर हिंसा की स्क्रिप्ट लिखी थी. दिल्ली पुलिस की जांच में एक के बाद एक सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं. अब जो खुलासा हुआ वो बेहद ही चौकाने वाला है. मोदी सरकार का तख्तापलट करने के षड़यंत्र के तहत दिल्ली दंगों को रचा गया था. दिल्ली हिंसा की जांच कर रहे अधिकारियों ने सबूतों के आधार पर ये दावा किया है. उन्होंने बताया कि साजिकर्ताओं ने पैसे और लॉजिस्टिक्स को एक सोची समझी साजिश के तहत इस्तेमाल कर दंगों की स्क्रिप्ट तैयार की थी.

दंगों के दौरान इस्तेमाल किए गए असलहा, पेट्रोल बम, एसिड अटैक, लोहे की छड़, तलवारें, धारदार चाकू, पत्थर और मिर्ची पाउडर आदि को भी साजिशकर्ताओं ने एक खास समाज के लोगों को निशाना बनाते हुए डराने के लिए इस्तेमाल किया था. साजिशकर्ताओं की एक ही मंशा थी कि वह भारत की सरकार का तख्तापलट कर दें और संसद की उस पार्टी को भी घुटनों पर ला दें जो इस कानून को लेकर आई थी.

साजिशकर्ता ये जानते थे कि ऐसा करने के लिए सरकार को अस्थिर करना होगा ताकि लोकतंत्र की नींव ही हिला जाए. इसलिए उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे का समय चुना और दिल्ली के कई इलाकों को आग के हवाले कर दिया. हालांकि सरकार को झुकाने की ये साजिश पूरी तरह से नाकाम रही. लेकिन अगर साजिशकर्ता अपने मंसूबों में कामयाब हो जाते तो देश में अस्थिरता पैदा हो जाती और दुनिया भर में ये मैसेज जाता कि भारत सरकार लोगों की जान और माल की रक्षा नहीं कर सकती

Back to top button
E-Paper