चुनाव मैदान में उतरेंगे डॉ. रत्नेश गंगवार, विवेक के टिकट मिलने के बाद विरोध की बयार शुरू

बीसलपुर। बीसलपुर में भाजपा के टिकट के आवंटन के बाद विरोध की बयार शुरू हो गई है। एक तरफ भारतीय जनता पार्टी ने मौजूदा विधायक रामसरन वर्मा के पुत्र विवेक वर्मा पर विश्वास जताया है, तो वहीं दूसरी ओर डॉ रत्नेश गंगवार ने सोशल मीडिया पर विरोधी स्वर छोड़ दिए हैं। डॉ रत्नेश ने सोशल मीडिया के माध्यम से चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है उन्होंने कहा वह किसी भी राष्ट्रीय पार्टी से चुनाव लड़ सकते हैं। देखना यह होगा कि रत्नेश का अगला सियासी दांव समाजवादी पार्टी होती है, या कांग्रेस के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरेंगे।
वर्ष 2017 के चुनाव में डॉ रत्नेश गंगवार को समाजवादी पार्टी ने टिकट दिया था लेकिन कांग्रेस और सपा के गठबंधन के बाद बीसलपुर की सीट एलाउंस में कांग्रेस के साथ चली गई थी इसके बाद डॉ रत्नेश गंगवार को सियासी कदम पीछे खींचना पड़ा और उन्होंने भारतीय जनता पार्टी का दामन थामते हुए रामसरन वर्मा को चुनाव लड़ाया था। लेकिन एक बार पुनः सियासी खेल का शिकार डॉ रत्नेश हुए तो उन्होंने अब 130 विधानसभा से ताल ठोक दी है। सोशल मीडिया पर डॉ रत्नेश गंगवार की पत्नी प्रियंका गंगवार ने लिखा है कि अगले विधायक रत्नेश गंगवार ही होंगे। वही रत्नेश के समर्थक भी टिकट ना मिलने से इस बार नाराज दिखाई दे रहे हैं। अपराहन 12 बजे डॉ रत्नेश गंगवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जहां मौजूदा विधायक की कार्यशैली पर सवाल उठाया तो वहीं उन पर कई मुकदमे लिखे होने का हवाला देते हुए भ्रष्टाचार में शामिल होने का भी आरोप लगाया है।

Back to top button