LIVE ब्रेकिंग : Air India की दिल्ली-लुधियाना फ्लाइट में कोरोना पॉजिटिव, सभी यात्री क्वारंटाइन

देश में घरेलू उड़ान सेवाओं को शुरू होने के बाद विमानों में कोरोना संक्रमितों की यात्रा की खबरों ने हड़कंप मचा दिया है। एयर इंडिया की दिल्ली-लुधियाना उड़ान में एक कोरोना मरीज की यात्रा करने के बाद प्लेन के सभी यात्रियों और क्रू मेंबर्स को क्वारंटीन कर दिया गया है। उधर, निजी एयरलाइंस इंडिगो ने मंगलवार को चेन्नै-कोयंबटूर उड़ान के क्रू मेंबर्स को ड्यूटी से हटा दिया। इस उड़ान में एक यात्रा करने वाले एक व्यक्ति के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद विमान कंपनी ने यह फैसला किया।

24 साल का युवक मिला कोरोना संक्रमित  

चेन्नै से 25 मई को हवाई यात्रा करके यहां पहुंचे एक व्यक्ति के मंगलवार को कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। दो महीने बाद घरेलू उड़ानों का परिचालन शुरू होने के बाद संभवतः यह संक्रमण का पहला मामला है। अधिकारियों ने बताया कि एक निजी विमानन कंपनी के विमान से आए 24 वर्षीय व्यक्ति को इलाज के लिए यहां ईएसआई अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा कि अन्य यात्रियों में संक्रमण नहीं पाया गया है लेकिन उन्हें 14 दिन के लिए घर पर क्वारंटीन किया जाएगा। सोमवार को चेन्नई और दिल्ली से 130 से अधिक यात्री यहां पहुंचे थे और तमिलनाडु सरकार के दिशा-निर्देशों के तहत सभी की कोरोना वायरस जांच की गई थी। मंगलवार को बलगम की जांच के नतीजे आए जिसमें 24 वर्षीय युवक में कोरोना वायरस के संक्रमण का पता चला। संक्रमित व्यक्ति चेन्नै के एक होटल में काम करता है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा कि हालांकि कोयंबटूर में 21 दिन बाद संक्रमण का मामला सामने आया है, लेकिन इसे चेन्नै से प्रकाश में आए मामले के रूप में दर्ज किया जाएगा। 

दिल्ली-लुधियाना फ्लाइट में कोरोना का मरीज

इस बीच, दिल्ली और लुधियान की उड़ान में एक कोरोना मरीज के मिलने के बाद विमान के सभी यात्रियों को क्वारंटीन कर दिया गया है। हालांकि, सहयात्रियों की कोविड-19 जांच नेगेटिव आए हैं। बता दें कि कुछ दिन पहले एयर इंडिया की कार्गो फ्लाइट से ग्वांगझो गए 5 पायलट कोरोना संक्रमित पाए गए थे

बता दें कि करीब दो महीने बाद देश में घरेलू विमान सेवाओं की 25 मई को शुरुआत हुई है। केंद्र सरकार ने एक तिहाई विमान सेवा को शुरू करने का फैसला लिया था। यात्रा के लिए केंद्र सरकार ने सख्त नियम बनाए हैं। इसके लिए आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य होने से लेकर मास्क पहनना जरूरी है।


विमान यात्रा के लिए बनाए गए हैं सख्त नियम


1. हर यात्री के मोबाइल फोन में न केवल आरोग्‍य सेतु एप्‍लिकेशन इंस्‍टॉल होना चाहिए, बल्कि उसका स्‍टेटस भी ग्रीन होना चाहिए। ऐसा नहीं होने पर आपको एयरपोर्ट टर्मिनल के भीतर इंट्री नहीं मिलेगी।
2. एयरपोर्ट पर अब फ्लाइट के निर्धारित समय से आपको दो घंटे पहले पहुंचना होगा।
3. एयरपोर्ट पहुंचने के लिए ऑथराइज्ड टैक्‍सी का ही इस्तेमाल करना होगा।
4. एयरपोर्ट पर पेमेंट के लिए सिर्फ डिजिटल मोड का हो सकेगा इस्तेमाल।
5. एयरपोर्ट पर अन्‍य किसी भी शख्स या यात्री से 6 फीट की दूरी जरूरी तौर पर बनाए रखनी होगी।
6. सिर्फ वेब चेक-इन की सुविधा मिलेगी। एयरपोर्ट के लगे चेक-इन कियॉस्‍क का भी इस्तेमाल किया जा सकेगा।
7. एयरपोर्ट टर्मिनल में प्रवेश से पहले यह सुनिश्चित करें कि आपने मास्‍क, शू-कवर पहना है। यह अनिवार्य है।
8. विमान में दाखिल होने से पहले आपका टेंपरेचर एक बार फिर चेक किया जाएगा। टेंपरेचर निर्धारित मानक से अधिक पाए जाने पर आपको हवाई यात्रा की इजाजत नहीं मिलेगी।
9. विमान में अपनी सीट में बैठने के बाद आपको एक बार फिर सैनिटाइज किया जाएगा। साथ ही, आपको यात्रा के दौरान क्रू के साथ कम से कम संवाद करना है।
10. कुछ एयरपोर्ट्स पर जरूरत को देखते हुए यात्रियों को PPE किट भी पहननी पड़ सकती है।
11. यात्रियों को सिर्फ चेकइन बैगेज ले जाने की होगी इजाजत, पहले चरण में केबिन बैगेज पर पूरी तरह से मनाही रहेगी।
12. एक यात्री को 20 किलो भार वाले एक ही चेकइन बैगेज ले जाने की इजाजत मिलेगी।
13. चेकइन के दौरान, आपको खुद अपना बैग उठाकर बैगेज बेल्‍ट में रखना होगा।
14. पहले चरण में 80 वर्ष से अधिक उम्र वाले यात्रियों को हवाई यात्रा की इजाजत नहीं मिलेग।
15. टिकट बुकिंग के दौरान एयरलाइंस यात्रियों को एक फार्म उपलब्‍ध कराएगी, जिसमें उन्‍हें अपनी कोविड-19 हिस्‍ट्री की जानकारी देनी होगी। इसके अलावा, यदि कोई यात्री बीते एक महीने के दौरान क्‍वारंटाइन में रहा है तो इसकी जानकारी भी एयरलाइंस को देनी होगी।

Back to top button
E-Paper