99 शिकायती प्रार्थना पत्रों में महज 3 का निस्तारण 

  • मण्डलायुक्त अमित गुप्ता ने भी लिया जायजा
  • छाया रहा नगर पंचायत बांसगांव में कामकाज का मुद्दा
  • ईओ ने डीएम से लगाई स्थानांतर की गुहार
गोपाल त्रिपाठी 
गोरखपुर। जिलाधिकारी के विजयेन्द्र पाण्डियन की अध्यक्षता में मंगलवार को बांसगांव तहसील में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 90 फरियादियों द्वारा प्रस्तुत शिकायती प्रार्थना पत्रों में से मौके पर मात्र 3 का ही निस्तारण किया जा सका। इस बीच करीब 12 बजे पहुंचे  मण्डलायुक्त अमित गुप्ता ने भी जनसुवाई की। इस दौरान नगर पंचायत के कामकाज का मुद्दा छाया रहा।
जिलाधिकारी के करीब 11 तहसील सभागार में पहुंचते ही उनसे भेंट करने को लेकर फरियादियों में होड़ सी लग गयी। इस बीच नगर पंचायत के वार्ड संख्या 12 की सभासद श्रीमती तारा सिंह के परिजन विनोद सिंह ने जिलाधिकारी के समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत कर बताया कि उनके वार्ड में तीन सड़कों तथा नाली का निर्माण कराया जाना जनहित में आवश्यक है। इसके लिये उन्होने पहली जनवरी को भी सम्पूर्ण समाधान दिवस में दरखास्त दी थी।
किन्तु आज तक काम शुरू नहीं कराया जा सका। डीएम ने ईओ को तलब कर इस बारे उनसे पूछताछ की तो ईओ की बात सुनकर वह दंग रह गये। ईओ खुद फरियाद करने लगीं कि वह यहां के कामकाज के तौर तरीके से तंग आ चुकीं हैं, उनका स्थानांतर सहजनवां कर दिया जाय। इसी बीच नगर पंचायत के विनियमित सात कर्मचारियोंं के साथ पहुंचे सभासद दल के नेता विनय सिंह ने बताया कि इन कर्मचारियों को 11 माह से वेतन का भुगतान न होने से इनके परिवारीजनों के समक्ष भुखमरी का संकट पैदा हो गया है।
जिससे यह महाजनों के आगे ब्याज पर रकम लेने को विवश हो गये हैं। डीएम फिर एक बार ईओ को तलब कर इस बारे जानना चाहा तो ईओ ने बताया कि पिछले 13 माह से बोर्ड की बैठक नहीं बुलाये जाने से इनका भुगतान कर पाना सम्भव नहीं हो पा रहा है। क्योंकि इस सम्बंध में बोर्ड की बैठक में निरंतरता प्रस्ताव को पारित कराया जाना आवश्यक है। जिससे डीएम असहज हो उठे। ईओ ने डीएम से एक लिपिक को तैनात करने की भी मांग की।
इसके अलावां धनौड़ा निवासी देवेन्द्र राय ने कौड़ीराम में नाबदान का शक्ल ले चुके राजकीय नलकूप की नहर को साफ करवाने के साथ ही दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही करने की माँग की। इसी प्रकार ग्राम सेनुआपार निवासी विकेश विश्वकर्मा ने सार्वजनिक रास्ते को अतिक्रमण से मुक्त कराने, व्यापारी मण्डल बांसगांव के पदाधिकारी अभय कुमार अग्रवाल, गिरजेश कुमार गुप्ता ने उपनगर में बंद पड़े सार्वजनिक शौचालय को चालू कराने, लम्बे समय से बंद जलकल से वाटर सप्लाई चालू कराने तथा खराब पड़े इण्डिया मार्का टू हैण्डपम्पों को ठीक कराने की मांग की।
गजपुर निवासी रामप्रताप तथा अरविंद ने गांव में स्थित गाँधी चबूतरे से अवैध कब्जा हटवाने, ग्राम दाढ़ा खुर्द निवासी रामजी यादव ने सार्वजनिक रास्ते पर दबंगों द्वारा बनवाये गये शौचालय की टंकी को हटवाये जाने की माँग की। इसके बाद डीएम ने बांसगांव ब्लाक के भीटी तिवारी गांव में निर्माधीन पशु आश्रय स्थल का निरीक्षण किया तथा इसका निर्माण दो दिन में पूरा कर रिपोर्ट करने के सम्बंध में मौके पर मौजूद बीडियो अनिल कुमार चौधरी एवं ग्राम पंचायत अधिकारी जितेन्द्र मिश्र को निर्देश भी दिया।
 इस अवसर पर एसएसपी डा0 सुनील गुप्ता, सीडीओ अनुज सिंह, सीएमओ डा0 श्रीकांत तिवारी, डीडीओ बब्बन उपाध्याय, एसडीएम अरूण कुमार मिश्र, सीओ नितेश सिंह, तहसीलदार शशिभूषण पाठक, तहसीलदार न्यायिक संजय अग्रहरि, इंस्पेक्टर संतोष कुमार यादव, अधिशासी अभियंता लोकनिर्माण प्रवीण कुमार, एई राजेश कुमार, अधीक्षण अभियंता विद्युत रणविजय सिंह, अधिशासी अभियंता सतीश चन्द्रा, एसडीओ राहुल कुमार, डीआईओएस की प्रतिनिधि के तौर पर जीजीआईसी बांसगांव की प्रधानाचार्या मधुलिका त्रिपाठी, पूर्ति निरीक्षक कुलभूषण श्रीवास्तव सहित अन्य विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।
Back to top button
E-Paper