VISTU: जानिए घर में अक्सर क्यों रहता है तनाव, आती है धन की कमी

these are 8 vastu reasons due to stress and lack of money remain at home

घर में हमेशा तनाव, क्लेश, लड़ाई – झगड़ा अक्सर होता रहता है। तो इसका कारण आपके घर में ही छिपा होता है। तो आइए हम आपको बताते है कि इन कारणों के बारे में। ज्योतिषशास्त्र में ऐसे कई बातें बताई गई हैं जो घर की सुख-शांति को कम करती हैं।

साधारण सी लगने वाली यह बातें परेशानियों को भी बढ़ा सकती हैं। हम घर के मुख्यद्वार के पास पानी का मटका या जग भरकर रख देते हैं लेकिन यह गलत है। कभी भी मुख्यद्वार के पास पानी से भरा पात्र नहीं रखना चाहिए। अगर रखना भी हो, तो उत्तर-पूर्व या दक्षिण पूर्व दिशा सही रहती है। पानी से भरे पात्र को कभी भी दाईं ओर नहीं रखना चाहिए। इसे हमेशा बाईं ओर ही रखें। इससे पति-पत्नी के बीच हमेशा अनबन होती रहती है और रिश्तों में दरार पैदा होती है।

दिन या तारीख देखने के लिए कैलेंडर हर घर की मुख्य जरूरत होता है। देखा जाता है कि अपनी सुविधानुसार हम कैलेंडर को कहीं भी लटका देते हैं। अगर यह गलत दिशा में लगा होगा, तो विपरीत प्रभाव छोड़ेगा। कैलेंडर को कभी भी दरवाजे के आगे या पीछे की ओर नहीं लटकाना चाहिए। ऐसा करने से घर के सदस्यों की आयु कम होती है और बीमारियां हमेशा घर में बनी रहती हैं। घर के भीतर गलत दिशा में लटके धारदार हथियार जैसे कैंची, चाकू, कुल्हाड़ी, तलवार आदि भी घर की सुख-शांति को प्रभावित करते हैं। इन्हें दक्षिण-पूर्व दिशा में रखने से अशुभ प्रभाव नहीं होता।

 

कभी भी घर में टूटे-फूटे बर्तन नहीं रखने चाहिए। शास्त्रों के अनुसार, यदि ऐसे बर्तन घर में रखे जाते हैं तो इससे मां लक्ष्मी अप्रसन्न होती हैं और घर में दरिद्रता का प्रवेश बढ़ती है। घर में टूटा हुआ शीशा रखना भी अशुभ होता है। इससे नकारात्मक ऊर्जा घर में सक्रिय हो जाती है और परिवार के सदस्यों को इसका परिणाम भुगतना पड़ सकता है।

 

घर में टूटा हुआ शीशा रखना भी अशुभ होता है। इससे नकारात्मक ऊर्जा घर में सक्रिय हो जाती है और परिवार के सदस्यों को इसका परिणाम भुगतना पड़ सकता है।

शयनकक्ष में झूठे बर्तन रखने से दरिद्रता आती है। शयनकक्ष के पलंग में यदि कोई दरार है या यह कहीं से टूटा हुआ है, तो पति-पत्नी के वैवाहिक जीवन में परेशानियां आ सकती हैं।

मान्यता है कि तिजोरी में किसी विवाद से संबंधित पेपर नहीं रखने चाहिए। तिजोरी में विवादित पेपर रखने से विवाद जल्दी खत्म नहीं होता और दरिद्रता बढ़ती जाती है।

धार्मिक ग्रंथों को कभी भी शयनकक्ष, किचन में नहीं रखना चाहिए। इससे यह अपवित्र होते हैं और इसका अशुभ प्रभाव आपके जीवन पर पड़ता है।

Back to top button
E-Paper