दर्दनाक हादसा : अनियन्त्रित ट्रक ने एक परिवार के 4 लोगो को सुलाया मौत की नींद

ढाबे के बाहर सो रहे परिवार पर पलटा ट्रक 4 की मौत

लखीमपुर खीरी। पीलीभीत-बस्ती राज्यमार्ग सिसैया चौराहे के पास शनिवार की सुबह लखीमपुर की तरफ से आ रहा कागज भरा एक ट्रक अनियन्त्रित होकर ढाबे के पास पलट गया, जिसमें एक बच्ची सहित तीन की मौत हो गई। सुबह लगभग तीन बजे हुए हादसे के समय सभी मृतक व घायल ढाबे के बाहर सड़क किनारे सो रहे थे। घटना की सूचना पाकर धौरहरा व ईसानगर पुलिस मौके पर पहुंची, जहां से घायलों को अस्पताल पहुंचाया और मृतकों का पंचनामा करवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। ट्रक चालक को ट्रक सहित कब्जे में ले लिया गया है। इस दौरान घटना की सूचना पाकर अपर पुलिस अधीक्षक प्रशान्त वर्मा ने घटना स्थल का मौका मुआयना किया।

अनरहरा व ईसानगर थाना क्षेत्र के बॉर्डर पर स्थित सिसैया चौराहे पर पिछले 35 वर्षों से सिसैया निवासी बदलू के साथ परिवार ढाबा चला रहा है। बीती शुक्रवार की रात्रि में ढाबा बन्द कर बदलू अपने परिवार के सदस्यों के साथ ढाबे के सामने सड़क किनारे सो रहा था। मध्यरात्री के बाद करीब साढ़े तीन बजे उत्तराखंड से बिहार जा रहा एक ट्रक अनियन्त्रित होकर उन पर पलट गया। जिसके चलते सड़क किनारे सो रहे

परिवार के इन लोगो की गयी जान 

परिवार में रूबी(14), महक(07), छोटकईया(40) और बदलू(60) की दबकर मौत हो गई,

जबकि ताहिरा बेगम व बड़कई गम्भीर रूप से जख्मी हो गए। घायलों को नजदीक स्थित ओएनजीसी स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती करवाया गया, जहां डॉक्टरों ने हालत गंभीर देख जिला मुख्यायल रेफर कर दिया। सूचना पर इंस्पेक्टर कोतवाली धौरहरा व इंस्पेक्टर थाना ईसानगर अपने दलबल के साथ मौके पर पहुंचे, जहां ग्रामीणों के सहयोग से ट्रक के नीचे दबे लोगों को बाहर निकाला।

जिसमें चार लोगों की मौके पर ही मौत हो चुकी थी

दो लोग घायल अवस्था में मिले। जिनको निकट स्थित अस्पताल में भर्ती करवाया गया। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे अपर पुलिस अधीक्षक प्रशान्त वर्मा ने भी घटनास्थल का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

भीषण एक्सिडेंटों की एक वजह गड्ढा युक्त स्टेट हाइवे
पीलीभीत बस्ती राज्यमार्ग के लखीमपुर से जालिमनगर पुल तक लगभग 50 किलोमीटर सड़क काफी दिनों से बड़े-बड़े गड्ढों में तब्दील है। मुख्यमंत्री द्वारा चलाए गए गड्ढा मुक्त अभियान के बाद भी आज तक किसी जिम्मेदार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया, जिसके चलते आए दिन भीषण एक्सीडेंट होने के कारण दर्जनों लोग असमय काल के गाल में शमा चुके है।

अतिक्रमण के चलते भी हो रहे है बड़े हादसे
पीलीभीत बस्ती मार्ग पर सड़क किनारे पटरी दुकानदारों, ढाबों द्वारा अतिक्रमण होने के कारण भी इस तरह की बड़ी घटनाएं आए दिन सामने आ रही हैं। रामापुर, अशोगापुर, नकहा, भदफ़र, बसढिया, रेहुआ व सिसैया चौराहे पर सड़क किनारे पान की दुकानों के साथ है। जिसको जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही के चलते आजतक हटवाने की ज़हमत नहीं उठाई गई है। जिसके चलते आए दिन हो रहे एक्सिडेंटों में बेवजह लोगों की जान चली जाती है।

Back to top button
E-Paper