गांव वालों ने गैंगरेप के दो आरोपियों को बाइक समेत जिंदा जलाया

झारखंड के गुमला में बुधवार को भीड़ ने नाबालिग से गैंगरेप के दो आरोपियों को बाइक समेत जिंदा जला दिया। इनमें से एक की मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल है। मामला जिला मुख्यालय से करीब 15 किलो मीटर दूर सदर थाना क्षेत्र के बसुआ पंचायत के एक गांव का है।

घटना के बाद से इलाके में बवाल

मरने वाले युवक की पहचान सुनील उरांव के रूप में की गई है। वहीं आशीष उरांव नाम का युवक गंभीर है। अस्पताल में युवक का इलाज चल रहा है। घटना के बाद से इलाके में तनाव बना हुआ है। पुलिस गांव में कैंप कर रही है। गुरुवार सुबह कई लोगों से पूछताछ भी की गई

बाइक पर लिफ्ट देकर ले गए और किया गैंगरेप

स्थानीय लोगों ने बताया कि नाबालिग अपने माता-पिता के साथ लोहरदगा के भंडरा गई हुई थी। वापस लौटने के लिए माता-पिता अपनी बेटी के साथ बस स्टैंड पर खड़े थे। इसी दौरान गांव का एक युवक पड़ोसी गांव के अपने दोस्त के साथ बाइक पर पहुंचा। परिवार से पूछा कि वह लोग रास्ते में क्यों खड़े हैं। लड़की के पिता ने बताया कि बस का इंतजार कर रहे हैं। घर पर सारा सामान बाहर पड़ा हुआ है।

युवक नाबालिग लड़की को बाइक पर लेकर निकल गए

घर जल्दी पहुंचाने की बात कह कर दोनों युवक नाबालिग लड़की को अपने साथ बाइक पर लेकर निकल गए। देर शाम करीब 7 बजे जब माता-पिता घर पहुंचे तो लड़की घर पर नहीं थी। इसके बाद परिवार के लोग लड़की को खोजने निकले, तो वह पड़ोसी गांव में गंभीर हालत में मिली।

पीड़ित लड़की ने परिजनों को सुनाई आपबीती

लड़की ने अपने परिजनों से को बताया कि दोनों युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया है। इसके बाद परिवार वाले दोनों युवकों को खोजने निकले। पड़ोसी गांव में दोनों युवकों को बाइक के साथ घेर लिया गया। इसके बाद गांव की महिलाएं और पुरुष दोनों युवकों को लेकर पूछताछ के लिए पीड़ित लड़की के गांव पहुंचे। लड़की ने लड़कों के सामने पूरी कहानी बयां कर दी।

गांव वालों ने आरोपियों को बाइक समेत जिंदा जलाया

लड़की के बयान के बाद गांव वालों ने दोनों लड़कों को जमकर पीटा। इसके बाद बाइक सहित दोनों के शरीर पर मिट्‌टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। दोनों युवकों को अस्पताल पहुंचाया गया। इसमें एक युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई है। घटना के बाद से इलाके में तनाव है। SDOP, थाना प्रभारी सहित भारी पुलिस बल गांव में कैंप कर रहा है।

घटना के बारे में जानकारी देने से बच रही पुलिस

दो लोगों को जिंदा जलाने की घटना के बाद जहां गांव में बड़ी संख्या में फोर्स तैनात है, वहीं संवेदनशील मामला होने की बात कहकर पुलिस ज्यादा जानकारी देने से बच रही है। इलाके के SDOP मनीष चंद्र लाल ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है, कुछ सुराग मिले हैं। फिलहाल इससे ज्यादा अभी कुछ नहीं बताया जा सकता।

Back to top button