बहराइच में 33 नेपाली नागरिकों को भेजा गया शेल्टर होम

नबी अहमद

रूपईडीहा/बहराइच। नेपाल सीमा से सटा थाना होने के कारण इस कस्बे मे लगातार नेपाली नागरिकों का आना लगा हुआ है। जिससे पुलिसकर्मी व स्वास्थ्य कर्मी इन्ही की व्यवस्थाओं मे लगे रहते है। पुलिस अधीक्षक बहराइच के आदेश से 02 एसआई व 04 सिपाहियों की यहां से रवानगी हो चुकी है। ऐसे मे थाने का जन बल भी कम हो गया है। थाना क्षेत्र से आने वाली जनसमस्याओं का समय का निस्तारण नही हो पा रहा है। शनिवार की सुबह थाने के सामने हिमाचल प्रदेश से एक बस थाने के सामने आकर रूकी।

इसमे नेपाली महिलाए व पुरूष मिलाकर 29 लोग सवार थे। सभी लोग हिमाचल प्रदेश के विभिन्न स्थानों से आये थे। ये लोग बांके जिले की राप्ती सोनारी गांव सभा के निवासी है। राप्ती सोनारी रूप सिंह, चन्द्र बहादुर विष्ट व लाल बहादुर ने बताया कि हम लोग हिमाचल प्रदेश मे पल्लेदारी का काम करते थे। इन लोगों ने बताया कि लाक डाउन 4 के बार लाक डाउन आगे बढ़ने की संभावना के कारण हम लोग घर जाना ही बेहतर समझा। जो पैसा था वहां खर्च हो रहा था। इन सभी को कस्बे के सीमावर्ती पीजी कालेजके शेल्टर होम मे भेज दिया गया। थाने मे बैठे गुजरात के द्वारिका से आये 03 नेपालियों व 01 लखीमपुर से आये नेपालियों को भी शेल्टर होम भेज दिया गया है।

Back to top button
E-Paper