इलाहाबाद बैंक मे नही हो रहा सोशल डिस्टेंश का पालन

नबी अहमद

रूपईडीहा/बहराइच। पिछले कई दिनों से दूर दराज के ग्रामीण क्षेत्रों से पुरूष व महिलाओं के जत्थे के जत्थे कड़ी धूप मे पैदल व साइकिलों से इलाहाबाद बैंक पहुंच रहे है। पुलिस की मौजूदगी के बावजूद सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ गयी है। इन ग्रामीणों को यह पता ही नही है कि सोशल डिस्टेंश है क्या। यही नही सोमवार की दोपहर सारे ग्रामीण बिना मास्क के देखे गये। प्रशासन ने शहरों व कस्बों मे मास्क व सोशल डिस्टेंश का तात्पर्य समझाया। परन्तु ग्रामीण क्षेत्रों मे इसका प्रचार प्रसार ही नही हुआ।

इसी वजह से कड़ी धूप मे झुण्ड बनाकर आपस मे बैंक के सामने ये लोग बातचीत करते देखे गये। गत दिनों बैंक के एलडीएम बलराम साहू ने बैंक का निरीक्षण करते समय बैंक मैनेजर सहित पूरे स्टाफ को अगाह किया था कि उपभोक्ताओं व स्टाफ को सभी के लिए मास्क का प्रयोग व सोशल डिस्टेंश आवश्यक है। उन्होने यह भी हिदायत दी थी कि उपभोक्ताओं को टोकन बांट दिए जाये। जिससे भीड़ न लगे। यदि इसमे कोई बाधा आती है तो स्थानीय पुलिस प्रशासन का सहयोग ले। परन्तु इन सभी दिशा निर्देशों का पालन नही किया जा रहा है। जो चिंता का विषय है।

Back to top button
E-Paper