औरैया : विद्युत कर्मी काली पट्टी बांध निजीकरण के विरोध में मनायेंगे काला दिवस

एस0खान/

औरैया। विद्युत कर्मचारी संघर्ष समिति उत्तर प्रदेश के द्वारा इलेक्ट्रिसिटी बिल 2020 तथा निजीकरण के विरोध में विद्युत कर्मचारी 1 जून को काला दिवस के रूप में मनाएंगे। इसके अंतर्गत समस्त विद्युत कर्मचारी जूनियर इंजीनियर संघ व अभियंता काली पट्टी बांधकर जनपद के विद्युत मुख्यालय यमुना रोड में विरोध प्रदर्शन करेंगे। राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन उत्तर प्रदेश जनपद इकाई औरैया के जनपद सचिव नरेंद्र कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि इलेक्ट्रिसिटी बिल 2020 एवं निजीकरण के विरोध में जनपद के बिजली कर्मचारी जूनियर इंजीनियर व सभी अभियंता काली पट्टी बांधकर विरोध करेंगे। उन्होंने बताया कि वर्तमान में बिजली की लागत 6.78 रू0 है।

कंपनी एक्ट के अनुसार निजी कम्पनी को 16 प्रतिशत मुनाफा दिया जाय तो निजीकरण के बाद के 8.00रू से कम किसी को  बिजली नही मिलेंगी। इस तरह से किसानों व घरेलू उपभोक्ताओं को काफी अधिक बिल अदा करना पड़ेगा इस प्रकार इलेक्ट्रिसिटी बिल 2020 एंव निजीकरण जनविरोधी, कर्मचारी विरोधी कदम है। यह मात्र पूंजीपतियों के हित में है इसका पुरजोर विद्युत कर्मचारी, जूनियर इंजीनियर संघ करेगा। एक जून को जनपद के समस्त विद्युत कर्मी अपने कार्यस्थल पर पूरे दिन हाथ में काली पट्टी बांधकर कार्य करेंगे इसके उपरांत दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए विद्युत मुख्यालय यमुना रोड औरैया में विरोध प्रदर्शन करेंगे।

Back to top button
E-Paper