भ्रष्ट अधिकारियों पर चला बाबा का बुलडोजर, गाजियाबाद के दो पूर्व डीएम के खिलाफ कार्रवाई शुरू

भास्कर समाचार सेवा
गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों पर निरंतर कार्रवाई कर रहे हैं। योगी आदित्यनाथ ने गाजियाबाद की डीएम रही आईएएस निधि केसरवानी को निलंबित कर दिया है। आईएएस निधि केसरवानी ने गाजियाबाद के डीएम रहते समय दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के भूमि अधिग्रहण में करोड़ों रुपए का घोटाला किया था। निधि केसरवानी ने किसानों से सस्ते रेट पर जमीन ली थी और फिर उसके बाद अपने रिश्तेदारों को खरीदवाकर उत्तर प्रदेश सरकार को कई गुना ऊंचे रेट में बेच दिया था। योगी आदित्यनाथ ने आईएएस निधि केसरवानी को निलंबित करते हुए इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश पारित कर दिये है।

मुख्यमंत्री ने सेवानिवृत्त डीएम विमल कुमार शर्मा के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कर कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। निधि केसरवानी की मौजूदा तैनाती केंद्र सरकार के अधीन है इसलिए निलंबित करते हुए विभागीय कार्यवाही शुरू करने के लिए प्रकरण भारत सरकार को संदर्भित करने का आदेश दिया है। दोनों अधिकारियों पर आरोप है कि उन्होंने ग़ाज़ियाबाद में तैनात रहते हुए भूमि अधिग्रहण के मामले में ज़्यादा भुगतान नियम विरूद्ध करके अपने चहेते लोगों को लाभ पहुँचाया था।

Back to top button