क्या राहुल की टीम में होगी पुराने दिग्गजों की एंट्री? इस नेता को है इंतजार…

बता दें, कांग्रेस अध्यक्ष ने कोर कमेटी, मेनिफेस्टो कमेटी और पब्लिसिटी कमेटी गठित की है. इन तीनों कमेटियों में खास बात ये है कि कांग्रेस के उन पुराने दिग्गजों को भी जगह मिली है, जिनका चेहरा लंबे अरसे से कांग्रेस पार्टी से गायब हो चुका था. कांग्रेस ने ऐसे लोगों को भी शामिल किया है, जिनसे पार्टी दूरी बनाए हुई थी या जो अहमद पटेल के खास माने जाते थे.

इन्हें मिली कमेटी में जगह
कमेटी के लिए चुने गए लोगों में मीनाक्षी नटराजन, भूपेंद्र हुड्डा, सलमान खुर्शीद शामिल हैं. इन नेताओं को कमेटियों में जगह मिलने से यही कयास लगाए जा रहें हैं, कि कांग्रेस एक बार फिर से फ्रंट पॉलटिक्स में एंट्री कर रही है. बता दें, लंबे अरसे से कांग्रेस में अवहेलना झेल रहे सलमान खुर्शीद को अहमद पटेल और इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के हेड सैम पित्रोदा के साथ घोषणा पत्र समिति में रखा गया है.

कोर कमिटी में भी शामिल हुए अहमद पटेल

वहीं, अहमद पटेल को पार्टी महासचिव के साथ 9 सदस्यीय कोर कमिटी में शामिल किया गया है. अहमद पटेल जो कि कांग्रेस के राजनीतिकार ही नहीं बल्कि नीतिकार भी माने जाते हैं, वे धीरे-धीरे अपने खेमे को मजबूत कर रहे हैं. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को भी घोषणा पत्र समिति में शामिल किया गया है.

चुनाव संबंधी मामले में करेंगे मदद
आपको बता दें, कांग्रेस ने जिन तीन महत्वपूर्ण समितियों का गठन किया है, उनका मुख्य काम चुनाव संबंधी समन्वय, घोषणापत्र और प्रचार संबंधित मामलों पर ध्यान देना होगा. राहुल गांधी द्वारा गठित की गई 9 सदस्यीय कोर ग्रुप कमेटी में एके एंटनी, गुलाम नबी आजाद, पी चिदंबरम, अशोक गहलोत, मल्लिकार्जुन खड़गे, अहमद पटेल, जयराम रमेश, रणदीप सुरजेवाला और केसी वेणुगोपाल को शामिल किया गया है.

वहीं, घोषणापत्र समिति में चिदंबरम, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, वरिष्ठ नेता जयराम रमेश, सलमान खुर्शीद, पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत बादल, अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव, सांसद राजीव गौड़ा, कृष्णन बिंदु, कुमारी शैलजा, रघुवीर मीणा, भालचंद मुंगेकर के साथ मीनाक्षी नटराजन को भी जगह दी गई है.
इसके अलावा पार्टी की हिमाचल प्रदेश प्रभारी रजनी पाटिल, इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के प्रमुख सैम पित्रोदा, पार्टी के OBC विभाग के प्रमुख ताम्रध्वज साहू, मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा, सांसद शशि थरूर, सचिन राव और ललितेश त्रिपाठी को भी घोषणा पत्र समिति में शामिल किया गया है.

पार्टी प्रचारक भी शामिल

पार्टी की प्रचार समिति में मीडिया विभाग के प्रमुख सुरजेवाला, सोशल मीडिया टीम की प्रमुख दिव्या स्पंदना और राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा को शामिल किया गया है.

दिग्विजय को नहीं मिली जगह

गौरतलब है कि, इस पूरी चुनावी कमेटी में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को कोई जगह नहीं मिली है. यही नहीं तीनों कमेटियों में मध्य प्रदेश के किसी भी दिग्गज नेता को शामिल नहीं किया गया है.

इनका भी कटा पत्ता
मेनिफेस्टो कमेटी के सदस्य में मध्य प्रदेश से मीनाक्षी नटराजन का नाम शामिल किया गया है. वहीं प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया, और  दिग्विजय को नई समितियों में जगह नहीं मिली है.

Back to top button
E-Paper