पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति मुशर्रफ की हालत गंभीर, परिजनों ने कहा- रिकवरी की कोई संभावना नहीं

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति और सेना के तानाशाह जनरल परवेज मुशर्रफ की हालत गंभीर बनी हुई है। उनके परिवार ने उनके ट्विटर हैंडल पर एक पोस्ट करके बताया कि मुशर्रफ वेंटिलेटर पर नहीं हैं। वे पिछले 3 हफ्तों से अस्पताल में भर्ती हैं। वे ऐसी मुश्किल स्टेज से गुजर रहे हैं जहां से रिकवरी की कोई संभावना नहीं है और उनके सभी अंग काम करना बंद कर रहे हैं। परिवार ने लोगों से कहा कि वे उनकी जिंदगी आसान होने की दुआ करें।

उड़ाई गई थी मौत की अफवाह

शुक्रवार को पाकिस्तानी मीडिया में परवेज मुशर्रफ की मौत की खबरें आने लगी थीं। वहीं, कई मीडिया चैनल्स ने इस खबर को खारिज कर दिया, जिसके बाद उनकी हालत को लेकर कयास लगाए जाने लगे। पूर्व सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने बताया कि उन्होंने मुशर्रफ के बेटे से बात की है और उन्होंने कंफर्म किया है कि मुशर्रफ वेंटिलेटर पर हैं। इसके बाद परिवार ने आगे आकर उनकी हालत के बारे में जानकारी दी है।

पाकिस्तान के दसवें राष्ट्रपति के तौर पर मुशर्रफ ने शासन

परवेज मुशर्रफ को 1998 में तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने सेना में चार सितारा रैंक पर प्रमोट किया। इसके बाद मुशर्रफ सेनाध्यक्ष हो गए। सेनाध्यक्ष बनकर मुशर्रफ ने 1999 में तख्तापलट कर दिया। 2001 से 2008 तक पाकिस्तान के दसवें राष्ट्रपति के तौर पर शासन किया।

उन्हें पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्‌टो के मर्डर और मस्जिद के एक क्लेरिक के मर्डर केस में भगोड़ा करार किया गया। 2007 में उन्होंने पाकिस्तानी संविधान को सस्पेंड कर दिया था जिसके बाद उन पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया गया। मुशर्रफ 2016 में इलाज के लिए दुबई गए और तब से वहीं पर हैं।

Back to top button